जागरण संवाददाता, जालंधर : जिले में डेंगू के छह मरीज सामने आने के बाद विभिन्न इलाकों में डेंगू का लारवा मंडराने लगा है। कंपनी बाग के बाद घनी आबादी वाले शहर के तीन इलाकों में सोमवार को डेंगू का लारवा मिला। इससे इलाका निवासियों में दहशत का माहौल है। इन इलाकों में डेंगू के मरीज होने का अंदेशा है। वहीं सिविल अस्पताल में ओपीडी में संदिग्ध डेंगू के मरीजों के आने का सिलसिला शुरू हो गया है।

जिले में डेंगू को लेकर सेहत विभाग अलर्ट हो गया है। सेहत विभाग ने युद्धस्तर पर हाई रिस्क इलाकों में सर्वे का काम शुरू कर दिया है। इस दौरान तीन इलाकों में डेंगू का लारवा मिला।

लारवा नष्ट करवाया, पैरीथ्रीम और टैमीफास का छिड़काव किया

जिला एपीडिमोलाजिस्ट डा. अदित्य पाल सिंह ने बताया कि सेहत विभाग की टीमों ने जगतपुरा, आबादपुरा व गांधी कैंप इलाके में घर-घर जाकर डेंगू का लारवा जांचा। इस दौरान जगतपुरा में चार, आबादपुरा व गांधी कैंप में दो-दो जगह डेंगू का लारवा मिला। लारवा कूलर, गमलों, ड्रम, टायर, खुले में पड़े फालतू बर्तनों तथा आबादपुरा में निर्माणाधीन इमारत में खड़े पानी में डेंगू का लारवा मिला। मौके पर लारवा नष्ट करवाया और पैरीथ्रीम तथा टैमीफास का छिड़काव करवाया। टीमों ने इन इलाकों में 143 घरों में सर्वे किया।

------------------------------

शहर के विभिन्न इलाकों से बुखार के मरीज सिविल अस्पताल में पहुंचने लगे हैं। हालांकि इनकी संख्या बहुत कम है। एहतियातन इन मरीजों को डेंगू जांच करवाने की सलाह दी जा रही है। अस्पताल में अभी तक इलाज के लिए कोई भी मरीज दाखिल नही किया गया है।

-डा. ईशू सिंह, मेडिकल स्पेशलिस्ट।

Edited By: Jagran