जागरण संवाददाता जालंधर : एक मामूली कीड़े ने क्रिकेटर हरभजन सिंह (भज्जी) को इतना परेशान कर दिया कि उन्हें अपनी कोठी पर खुद डिच चलवानी पड़ गई। आजकल भज्जी के छोटी बारादरी स्थित आवास को मशीन लगाकर तुड़वाया जा रहा है। यह घर उसी प्लाट पर बना है जो पंजाब सरकार ने भज्जी को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उम्दा प्रदर्शन करने के लिए पुरस्कार में दिया था।

जालंधर के छोटी बारादरी में ढहायी जा रही क्रिकेटर हरभजन सिंह की कोठी।

बता दें कि यह कोठी भज्जी ने खास तौर पर अपनी मां के लिए बड़ी हसरतों से बनवाई थी। दीमक लगने के कारण इसकी हालत जर्जर होने लगी थी। सुरक्षा के लिए खतरा बनने पर अब इसे गिराया जा रहा था।

पहले कयास लगाए जा रहे थे कि भज्जी अपनी यह कोठी वास्तु दोष के कारण गिरवा रहे हैं परंतु अब वजह कुछ और ही निकल कर समाने आ रही है। भज्जी के बेहद करीबी विक्रम सिद्धू के मुताबिक इसकी वजह वास्तु नहीं बल्कि कुछ और ही है। सिद्धू का कहना है कि छोटी बारादरी को यहां स्थित गन्ना फॉर्म खत्म कर बसाया गया था। कभी खेत होने के कारण वहां सियोंक (दीमक) की समस्या ज्यादा थी। इस प्लॉट पर कोठी तैयार होने के बाद पिछले कुछ वर्षों में सियोंक ने सारी कोठी बदरंग कर डाली। इसीलिए भज्जी ने इसे गिरवाकर जगह का उचित ट्रीटमेंट कर दोबारा कोठी बनाने का निर्णय लिया है।

103 टेस्ट और 236 वनडे मैच खेल चुके हैं भज्जी

क्रिकेटर हरभजन सिंह अंतरराष्टीय क्रिकेट में भारत की ओर से 103 टेस्ट और 236 एकदिवसीय मुकाबले खेल चुके हैं। इंडियन प्रीमियर लीग ((आइपीएल) और टी-20 की बात करें तो हरभजन सिंह ने 28 टी-20 और 149 आइपीएल मुकाबले खेले हैं। हरभजन सिंह ने टेस्ट मैचों में 471 विकेट, वन डे मुकाबलों में 269 विकेट और आइपीएल में 134 विकेट हासिल किए हैं। टवेंटी-20 मुकाबलों में भज्जी ने 25 विकेट हासिल किए हैं। वर्तमान में वह आईपीएल की टीम चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से खेलते हैं।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Pankaj Dwivedi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!