जेएनएन, जालंधर। पार्षद जगदीश समराए ने सोशल वेलफेयर मिनिस्टर साधु सिंह धर्मसोत से मुलाकात करके पोस्टमैटिक स्कॉलरशिप के संबंध में मेमोरेंडम दिया और मांग की कि ग्रांट जल्द जारी करवाई जाए। पार्षद ने बताया कि कॉलेजों को ग्रांट में देरी का असर अनुसूचित जाति और पिछड़ी श्रेणी के स्टूडेंट्स पर पड़ रहा है। जो स्टूडेंट्स पढ़ाई पूरी कर चुके हैं उन्हें डिग्रियां नहीं दी जा रही। मैनेजमेंट स्टूडेंट्स से पिछले सेशन के लाखों रुपये बकाया मांग रही हैं।

कैबिनेट मंत्री ने आश्वासन दिया कि जल्द ही ग्रांट जारी कर दी जाएगी और बच्चों को किसी भी तरह की परेशानी नहीं आने दी जाएगी। मौके पर कैबिनेट मंत्री के सलाहकार यशपाल धीमान, गो सेवा कमिशन के मेंबर अशोक गुप्ता, अतुल, हरप्रीत सिंह मोनू, सतनाम बिट्टा मौजूद रहे।

बता दें कि पोस्ट मैट्रिक स्कालरशिप जारी न होने की वजह से प्राइवेट कालेजों में अनुसूचित वर्ग के विद्यार्थी पढ़ाई छोड़ने के लिए मजबूर हो रहे है। एक ओर जहां कालेज प्रबंधन विद्यार्थी को फीस जमा करवाने के लिए कह रहे हैं। वहीं दूसरी ओर, स्टूडेंट की मजबूरी है कि जब सरकार खाते में स्कालरशिप राशि भेजेगी तभी वह कॉलेज में जमा करवा पाएगा। सरकार ने न तो कॉलेज प्रबंधन को बकाया राशि जारी की है और न ही विद्यार्थियों के खाते में स्कॉलरशिप पहुंची है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Vikas Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!