जालंधर, जेएनएन। मुलाजिमों को अप्रैल का वेतन देने के लिए नगर निगम के पास पर्याप्त फंड हैं। वेतन मई के पहले हफ्ते में जारी कर दिया जाएगा। निगम को मुलाजिमों का वेतन देने के लिए हर माह करीब 13 करोड़ रुपये की जरूरत होती है।

मेयर जगदीश राज राजा के मुताबिक नगर निगम के पास इस समय 40 करोड़ रुपये से ज्यादा के फंड मौजूद हैं। उन्होंने कहा कि बजट मीटिंग न होने के कारण सरकार ने बजट का 12वां हिस्सा हर महीने खर्च करने के निर्देश दे रखे हैं। इसके तहत मुलाजिमों का वेतन, बिजली बिल, पेट्रोल डीजल, टेलीफोन बिल जैसे जरूरी खर्चे ही किए जा सकते हैं। मेयर ने उम्मीद जताई कि एक सप्ताह में नगर निगम की वर्किंग शुरू हो जाएगी और निगम के पास रेवेन्यू आना शुरू हो जाएगा। सरकार से भी जीएसटी के हिस्से के रूप में 15 से 20 करोड़ पर मिल सकते हैं। 

चेयरमैन आहलूवालिया ने भी कहा, वेतन के लिए फंड की समस्या नहीं

इंप्रूवमेंट ट्रस्ट जालंधर के चेयरमैन दलजीत सिंह आहलूवालिया ने कहा कि पिछले माह भी समय पर वेतन जारी किया गया था और इस बार भी फंड की कमी नहीं है। हालांकि पिछले दो महीनों में रेवेन्यू नहीं आया है, लेकिन मुलाजिमों को देने के लिए जरूरी फंड मौजूद है। इंप्रूवमेंट ट्रस्ट को वेतन के लिए हर माह करीब 37 लाख रुपये चाहिए होते हैं।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Vikas_Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!