जालंधर, जागरण संवाददाता। कोरोना के नए मरीजों की संख्या कम होने के बाद लोग राहत महसूस करने लगे हैं। सावधानियों से कोरोना से बचाव संभव है। लेकिन संक्रमण के मामले कम होते ही लोग फिर से लापरवाही पर उतर आए हैं। जिसकी बदौलत पिछले चार दिन से मरीजों की संख्या का ग्राफ बढ़ने लगा है। चार दिन में मरीजों की संख्या दोगुना हो गई है। शुक्रवार दस साल के बच्चे सहित 16 लोग कोरोना पाजिटिव पाए गए। एक मरीज की कोरोना से मौत हो गई। 18 मरीज कोरोना से जंग जीत कर घर पहुंचे।

पिछले चार दिन से कोरोना के मरीजों की संख्या एक बार फिर से बढ़ने लगी है। माहिरों की माने तो कोरोना से बचाव के लिए मुंह पर मास्क, आसपास में दो मीटर की शरीरिक दूरी तथा बार बार हाथ धोने की नीतियों को दरकिनार किया जा रहा है। सावधानियों को बनाई नीतियों की पालना न होने से कोरोना फिर से खतरे की घंटी बन सकता है।

सेहत विभाग के अनुसार शुक्रवार को शाहकोट के 86 के बुजुर्ग की कोरोना से मौत हो गई। इसके अलावा जालंधर छावनी से दो, थाना नंबर सात, निजी कंपनी तथा सेना के अस्पताल से एक-एक मरीज कोरोना पाजिटिव का रिपोर्ट हुआ। शुक्रवार को 5501 लोगों के सेंपल लेकर जांच के लिए लैबों में भेजे गए. वहीं लैबों से आई लैबों से आई रिपोर्ट में 4282 लोग नेगेटिव आई। एक्टिव मरीजों की संख्या 91 तथा कोरोना से मरने वालों की 1490 पहुंच चुकी है।

-----

जुलाई मरीज

20 08

21 10

22 13

23 16

बच्चे 01

महिलाएं 02

पुरुष 13

-----

कोरोना मीटर

एक दिन में संक्रमित : 16

एक दिन में मौत : 01

कुल संक्रमित : 63052

अब तक स्वस्थ : 61471

एक्टिव मरीज 91

कुल मौतें 1490

एक दिन में टीकाकरण 1390

कुल टीकाकरण 954004

Edited By: Vikas_Kumar