जालंधर, जेएनएन। कोरोना वायरस (Corona Virus) से बचाव के लिए पंजाब रोडवेज ने अपने सभी 18 डिपो में बसों को सेनीटाइज करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। रूट पर रवाना किए जाने से पहले बसों में सोडियम हाइपोक्लोराइड का छिड़काव करवाया जा रहा है। हर डिपो में सोडियम हाइपोक्लोराइड की सप्लाई भेजी जा रही है। इसके अलावा स्प्रे उपकरण भी भिजवाए जा रहे हैं। हालांकि सफर के दौरान बसों में हैंड सेनीटाइजर जैसी कोई सुविधा यात्रियों के लिए उपलब्ध नहीं करवाई गई है।

पंजाब रोडवेज के डिप्टी डायरेक्टर परनीत सिंह मिन्हास ने बताया है कि हेल्थ डिपार्टमेंट के दिशा-निर्देश के तहत ही इस रसायन का छिड़काव करवाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हर डिपो के जनरल मैनेजर को बसों को सेनीटाइज करने संबंधी हिदायतें जारी की गई हैं और कहा गया है कि बसों को रूट पर रवाना करने से पहले उन्हें सेनीटाइज करना सुनिश्चित किया जाए। जालंधर के शहीद-ए-आजम भगत सिंह इंटर स्टेट बस टर्मिनल पर भी सेहत विभाग के सहयोग से पंजाब रोडवेज के जनरल मैनेजर नवराज बातिश ने लोगों को कोरोना वायरस से बचाव करने के लिए प्रेरित किया। अपने स्टाफ को भी जागरूक करवाया।

जालंधर के शहीद-ए-आजम भगत सिंह इंटर स्टेट बस टर्मिनल पर सेहत विभाग के अधिकारियों से कोरोना वायरस संबंधी जानकारी लेते जनरल मैनेजर नवराज बातिश व रोडवेज स्टाफ सदस्य।

बसों में हैंड सेनीटाइजर नहीं उपलब्ध

जालंधर अमृतसर रूट पर नियमित यात्रा करने वाले मनप्रीत सिंह ने कहा कि चलती हुई बस में यात्रियों को हर हाल में हैंडल को पकडऩा पड़ता है, जिससे हाथों में इंफेक्शन होने का डर लगातार बना रहता है। इस कारण बसों में भी कम से कम एक बोतल सेनीटाइजर की हर रूट पर उपलब्ध करवाई जानी चाहिए ताकि यात्री बस से उतरते समय हाथों को अच्छी तरह से साफ कर लें। दूसरी ओर, रोडवेज अधिकारियों ने कहा कि प्रत्येक बस में सेनीटाइजर उपलब्ध करवाना फिलहाल संभव नहीं है। अधिकतर यात्री अपने साथ सेनीटाइजर लेकर ही चल रहे हैं।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Pankaj Dwivedi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!