जालंधर, जेएनएन। आखिर वही हुआ जिसका अंदाजा लगाया गया था। कांग्रेस में सब कुछ ठीक नहीं नजर आ रहा है। सोमवार को पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़ के सामने कार्यकर्ताओं ने जमकर भड़ास निकाली। प्रशासनिक अधिकारी उनके निशाने पर रहे। ब्लॉक प्रधानों ने यहां तक आरोप लगा दिया कि विधायकों और हलका प्रधानों की भी सुनवाई नहीं हो रही। अधिकारी मनमानी कर रहे हैं। कांग्रेसी वर्करों ने जाखड़ से अपील की कि पार्टी की वर्किंग और सरकार की वर्किंग को सुधारा जाए नहीं तो 2022 में चुनाव में कांग्रेस जीत नहीं पाएगी।

ईडी का छापा राजनीति से प्रेरित बताया

पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने जालंधर कांग्रेस देहात के प्रधान सुखविंदर सिंह सुखा लाली के घरों और दफ्तरों पर एनफोर्समेंट डायरेक्टरेट के छापों को राजनीतिक बताया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार राजनीतिक कारणों से ईडी जैसी बड़ी संस्थाओं का दुरुपयोग कर रही है। इससे पहले ऐसा ही महाराष्ट्र में हुआ था और अब पंजाब में भी हो रहा है लेकिन पंजाब के लोग ऐसी हरकतें बर्दाश्त नहीं करेंगे।

ईडी के समक्ष प्रस्तुत नहीं हुए सुखविंदर लाली

इधर, जालंधर कांग्रेस रूरल के अध्यक्ष सुखविंदर सिंह लाली समन होने के बाद भी ईडी के समक्ष पेश नहीं हुए। उन्हें यहां पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़ के कार्यक्रम देखा गया है। उल्लेखनीय है कि जाखड़ ने लाली के विरुद्ध गत शुक्रवार को ईडी की कार्रवाई को राजनीति से प्रेरित बताया है।

 

 

 

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Pankaj Dwivedi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!