जेएनएन, जालंधर। पंजाब में डोप टेस्‍ट के हंगामे के बीच सत्‍ताधारी कांग्रेस के एक विधायक को इसमें पॉजिटिव पाया गया है। बताया जाता है कि जिले के करतारपुर क्षेत्र से  कांग्रेस विधायक सुरिंदर सिंह चौधरी के डोप टेस्ट की  रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उनके यूरीन सैंपल में दिमाग के रसायनों को कंट्रोल करने वाली नशीली दवा बेंजोडाइजेपिन पाई गई है। यह दवा नींद आने के लिए ली जाती है। विधायक ने डॉक्‍टरों को बताया कि उनकी डिप्रेशन की दवा चल रही है।

रिपोर्ट में नींद की दवा के मिले अंश

लैब कर्मियों ने उनका यूरीन सैंपल लिया था। इसकी रिपोर्ट में डिप्रेशन और नींद की समस्या में इस्तेमाल होने वाली दवा के अंश पाए गए। मौके पर एसएमओ डॉ. तरलोचन सिंह और डॉ. चनजीव भी मौजूद थे। उन्होंने एमएलए सुरिंदर सिंह को बताया कि एक सैंपल पॉजिटिव आया है। सुनकर पहले तो विधायक स्तब्ध रह गए लेकिन बाद में बोले- उनकी माइंड रिलेक्स करने वाली दवा चल रही है। उनके पास डॉक्टर की प्रिस्क्रिप्शन है। वह रेस्टिल की गोली खाते हैं।

नेता के टेस्ट में फेल होने का पहला मामला सामने आया

यह पहला मौका है, जब किसी नेता का डोप टेस्ट पॉजिटिव पाया गया हो। इससे पहले विधायक बावा हैनरी, विधायक रजिंदर बेरी, सांसद चौधरी संतोख सिंह, विपक्ष के नेता सुखपाल सिंह खैहरा, आप विधायक अमर अरोड़ा, लुधियाना के सांसद रवनीत सिंह बिट्टू अपना डोप टेस्ट करवा चुके हैं। डॉक्‍टरों के अनुसार, रेस्टिल की गोली में एलप्रेजोलाम नामक साल्ट होता है, जो बेंजोडाइजेपिन ग्रुप की दवा में पाया जाता है। इसका सेवन घबराहट, दिमागी परेशानी, डिप्रेशन, नींद की समस्या और एंग्जाइटी वाले मरीज करते हैं।

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!