जागरण संवाददाता, जालंधर : इंप्रूवमेंट ट्रस्ट ने गुरु अमरदास स्कीम में लगाए जा रहे पेट्रोल पंप पर कॉलोनी की वेलफेयर सोसायटी का एतराज खारिज कर दिया है। इंप्रूवमेंट ट्रस्ट ने पंप लगाने को वैध बताया है। इंप्रूवमेंट ट्रस्ट की इंजीनियरिग ब्रांच ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि यह पेट्रोल पंप कालोनी डेवलप किए जाने के समय से ही लेआउट प्लान में शामिल था। इंजीनियरिग ब्रांच ने ईओ सुरिंदर कुमारी को दी रिपोर्ट में कहा कि यह जमीन नॉन कंस्ट्रक्शन जोन का हिस्सा नहीं थी। ईओ सुरिंदर कुमारी ने कहा कि उन्हें रिपोर्ट मिल गई और रिपोर्ट के मुताबिक पंप पूरी तरह से ठीक है। पंप लगाने का काम रोके जाने की कोई जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि 2004 में पंजाब सरकार से पंप लगाने की मंजूरी भी मिल गई थी। ईओ ने बताया कि कुछ दिन पहले गुरु अमरदास नगर वेलफेयर सोसायटी ने उनसे दोबारा मुलाकात की थी, लेकिन तब रिपोर्ट तैयार नहीं थी। अब रिपोर्ट की जानकारी सोसायटी को दे दी जाएगी। कॉलोनी की वेलफेयर सोसायटी का यह एतराज है कि हाईवे के साथ जिस जगह पंप लगाया जा रहा है। वह जमीन नॉन कंस्ट्रक्शन जोन का हिस्सा है और वहां पंप लगाने की बजाए ग्रीन बेल्ट डेवलप की जाए।

किसानों को 3 करोड़ रुपए इन्हांसमेंट राशि जारी : इंप्रूवमेंट ट्रस्ट की ईओ सुरिंदर कुमारी ने बताया कि ट्रस्ट ने किसानों को 3 करोड़ रुपए की इन्हांसमेंट राशि जारी कर दी है। सुप्रीम कोर्ट में करीब साढ़े 7 करोड़ की इन्हांसमेंट के केस में देनदारी है और इसमें से अब तक 3 करोड़ दिए जा चुके हैं। शुक्रवार को भी कुछ किसानों को इन्हांसमेंट के चेक जारी किए हैं। ईओ ने कहा कि रिकवरी में तेजी है और बाकी इन्हासमेंट भी जल्द दे दी जाएगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!