जालंधर, जेएनएन। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने दो दिन पहले नूरमहल में पेट्रोल बम फेंके जाने से झुलसे होमगार्ड जवान रछपाल सिंह से वीडियो कॉल के जरिए बात की और हालचाल पूछकर उनका हौसला बढ़ाया। रछपाल पर दो दिन पहले हमला किया गया था। 

कर्फ्यू लागू कराने के लिए फील्ड ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मियों का हौसला बढ़ाने की इस पहल में सीएम ने रछपाल सिंह से उस दिन की घटना के बारे में बातचीत की और फिर सरकार के पूरे सहयोग के साथ जल्द स्वस्थ होने की कामना की। सीएम ने बाद में फेसबुक पर भी इस बारे में पोस्ट डाली कि उनकी बहादुर होमगार्ड रछपाल सिंह से बातचीत हुई जो हमले झुलस गए थे। जवान की तबियत लगातार सुधर रही है और जल्द ही वो स्वस्थ्य हो जाएंगे। उन्हें 19 दिन के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया जाएगा। हमलावर आरोपित को उसी दिन गिरफ्तार किया जा चुका है। मुख्यमंत्री ने भरोसा जताया कि आरोपित को कानून के अनुसार कड़ी सजा मिलेगी।

यह था मामला

सोमवार को नूरमहल के गांव पंडोरी जगीर में एक व्यक्ति ने पुलिस मुलाजिमों पर पेट्रोल बम से हमला कर दिया था। जिसमें होमगार्ड रछपाल सिंह के शरीर का ऊपरी हिस्सा बुरी तरह से झुलस गया था जबकि उनके साथ जा रहे एएसआइ सरूप सिंह बाल-बाल बच गए। रछपाल सिंह ने बताया था कि सोमवार दोपहर को वह एएसआइ सरूप सिंह के साथ गांव पंडोरी जगीर में गश्त कर रहे थे। इस दौरान गांव की ओर जाते समय वहां सड़क किनारे पहले से खड़े एक व्यक्ति ने अचानक उन पर पेट्रोल बम फेंक दिया। बोतल उनके शरीर पर पड़ी तो आग लग गई। इससे उनके शरीर का ऊपरी हिस्सा झुलस गया। हालांकि हमले में एएसआई सरूप सिंह बच गए।

आरोपित को लोगों की मदद से पुलिस ने तुरंत गिरफ्तार कर लिया। उसकी पहचान गांव पंडोरी जागीर के रहने वाले राज कुमार के रूप में हुई है। पुलिस ने उसके खिलाफ हत्या की कोशिश सहित विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया है। पुलिस के मुताबिक वह पिछले कुछ दिनों से गांव में देसी शराब बेचने का काम कर रहा था। 

 

 

 

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Pankaj Dwivedi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!