जासं, जालंधर। सिटी रेलवे स्टेशन पर रेलवे की तरफ से स्वच्छता पखवाड़ा चलाया जा रहा है। शनिवार को पहल एनजीओ के सहयोग से यात्रियों को प्लास्टिक से होने वाले नुकसान के बारे में बताया गया। जागरूकता प्रोग्राम में उन्हें बताया गया कि देश व समाज को स्वच्छ बनाने के लिए प्रत्येक का सहयोग जरूरी है। इसमें हर कोई योगदान भी डाल सकते है, बस इसके लिए समझदारी से काम करते हुए प्लास्टिक के इस्तेमाल को बंद करना है। 

कर्मचारियों को बांटे कपड़े से बने बैग

प्लास्टिक ही एक ऐसी चीज है, जो सालों साल जमीन में दबी रहने के बाद भी वैसी की वैसी ही बाहर निकल आएगी। इससे भूमि को हानि होती है। उसकी उर्वरा शक्ति कमजोर होती है और भूजल प्रदूषित होता है। प्रधान हरविंदर कौर ने कहा कि प्लास्टिक के बजाए कागज या कपड़े से बने हुए बैग का इस्तेमाल करके सभी अपना बहुमूल्य योगदान डाल सकते हैं। इस दौरान यात्रियों और कर्मचारियों को कपड़े से बने हुए बैग वितरित किए गए।

स्टेशन मास्टर हरिदत्त शर्मा और चीफ हेल्थ इंस्पेक्टर मनोज कुमार ने कहा कि रेलवे की तरफ से स्वच्छता पर मुहिम चलाई जा रही है। ताकि रेल यात्रियों को जागरूक करे रेल परिसर ही नहीं समाज को भी स्वच्छ बनाया जा सके। इसके तहत ही निरंतर गतिविधियां करवाई जा रही है, जिनमें यात्रियों को पोस्टर व पेंफ्लेट के जरिये प्लास्टिक से होने वाले दुष्प्रभावों प्रति जागरूक करना, प्लास्टिक के विकल्पों प्रति जागृति लाने आदि के प्रयास किए जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि प्लास्टिक के बढ़ते इस्तेमाल की वजह से प्रदूषण इतना बड़ गया है कि इसे हटाया जाना बेहद जरूरी है। इसके लिए सभी आगे आए और इसका प्रयोग बंद करें। इस मौके पर एनजीओ से कुलवंत सिंह, रनजीत कौर, निर्मल सिंह आदि थे।

यह भी पढ़ें - Punjab Weather News: पंजाब में बदला मौसम का मिजाज; जालंधर, लुधियाना और चंडीगढ़ में लगी बारिश की झड़ी

Edited By: Pankaj Dwivedi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट