जागरण संवाददाता, जालंधर : सोमवार सुबह भारत बंद के लिए कंपनी बाग चौक पर एकत्रित कांग्रेस नेताओं को सोमवार सुबह जोरदार झटका लगा। धरनास्थल के निकट ही पंजाब सफाई मजदूर यूनियन के नेता चंदन ग्रेवाल के नेतृत्व में सफाई सेवकों ने सांसद चौधरी संतोख ¨सह के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। वे हाथों में दैनिक जागरण की प्रति लिए हुए थे, जिसमें सांसद की ओर से सफाईकर्मियों की भर्ती की घोषणा की खबर प्रमुखता से प्रकाशित की गई है। वे सांसद के ठेके पर सफाई सेवकों की भर्ती के बयान से नाराज थे। टकराव का माहौल बनने पर जिला शहरी कांग्रेस के अध्यक्ष दलजीत ¨सह आहलूवालिया के बेटे काकू आहलूवालिया व अन्य कांग्रेस नेताओं ने चंदन ग्रेवाल को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़ से मिलाने की बात कहकर उन्हें शांत करवाया।

चंदन ग्रेवाल ने कहा है कि नगर निगम हाउस में 535 सफाई सेवकों का प्रस्ताव पास है पर सरकार आनाकानी कर रही है। अब सांसद ठेके पर 50 सफाई सेवक भर्ती करने की घोषणा कर रहे हैं। वे ऐसा कतई नहीं होने देंगे। उन्होंने कहा कि सफाई कर्मचारियों को ठेके पर रखने की परंपरा भी साल 2004 में तत्कालीन निकाय मंत्री चौधरी जगजीत ¨सह ने डाली थी। उन्होंने कहा अगर सरकार ने जल्द रेगुलर सफाई सेवकों की भर्ती न की तो वे सांसद के निवास के बाहर धरना देंगे। चंदन ग्रेवाल ने पूछा है कि क्या पांच-पांच लाख रुपये से शहर साफ हो जाएगा। सफाई क्या पार्षद और कांग्रेस के विधायक करेंगे। जिन लोगों को सफाई करनी है, उन्हें सांसद ठेके पर रखने की बात कर रहे हैं पर इनाम में 5-5 लाख देने को तैयार हैं। जाखड़ ने सांसद के बयान से पल्ला झाड़ा

जासं, जालंधर: ठेके पर 50 सफाई मुलाजिम रखने के सांसद संतोख चौधरी के बयान पर कांग्रेस ने पल्ला झाड़ लिया है। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष व सांसद सुनील जाखड़ ने एक होटल में चंदन ग्रेवाल के साथ मुलाकात करते हुए कहा है कि ठेके पर भर्ती का बयान सांसद का अपना निजी बयान हो सकता है, ये कांग्रेस पार्टी का नहीं। इस मौके पर ग्रेवाल ने सफाई सेवकों की लंबित मांगों के संबंध में सुनील जाखड़ को एक ज्ञापन भी सौंपा।

Posted By: Jagran