जागरण संवाददाता, जांलधर

शहर की विभिन्न भगवान वाल्मीकि संस्थाओं ने इस बार 31 अक्टूबर को मनाए जाने वाला भगवान वाल्मीकि प्रकटोत्सव घर में पावन ज्योति जलाकर व केक काटकर मनाने का फैसला किया है। इस संबंध में रविवार को भगवान वाल्मीकि मंदिर, आवा मोहल्ला में आयोजित बैठक के दौरान भगवान वाल्मीकि वेलफेयर कमेटी पंजाब, पंजाब यूथ वाल्मीकि सभा व भगवान वाल्मीकि प्रबंधक कमेटी के पदाधिकारियों ने संयुक्त रूप से इसकी घोषणा की। उन्होंने सभी से अपील की कि घर में रहकर प्रकटोत्सव मनाएं।

इस दौरान भगवान वाल्मीकि वेलफेयर कमेटी पंजाब से प्रधान सोमा गिल तथा मंदिर कमेटी के प्रधान शादी लाल ने कहा कि कोरोना महामारी के चलते शारीरिक दूरी बनाना व स्वच्छता नियमों का पालन करना हर नागरिक की नैतिक जिम्मेदारी बनती है। इसके साथ ही सरकार व जिला प्रशासन द्वारा दी जाती हिदायतों का भी पालन करना चाहिए। इस कारण इस बार घरों में ही रहकर भगवान वाल्मीकि जी की पूजा अर्चना करने का फैसला किया गया है। उन्होंने कहा कि इसके लिए निजी स्तर पर फोन करने के साथ-साथ सोशल मीडिया पर इसका प्रचार किया जा रहा है। इस मौके पर सेंट्रल वाल्मीकि सभा से मनी गिल, करण थापर, गोलू हंस, गौरव हंस, मूल निवासी मुक्ति मोर्चा से अनिल हंस, अनजान संगीत पार्टी राजू अनजान, भीम सेना से रिकू पट्टी, विजय अटवाल, हरजिदर, गुरमीत राजन, राजीव लूथर, डेनियल, मोहित कल्याण, लक्की शिमला, राजेंद्र सभ्रवाल, विनोद जोशी, नवल किशोर, अरुण कुमार मनी, रॉकी मनचंदा, रिकू बैंस, गौरव शर्मा, सोनू नाहर, साजन संगर, शुभम, अरुण सहोता, रोशी लूथर, मनीष कल्याण, पंजाब यूथ वाल्मीकि सभा से प्रधान रिक्की लूथर सहित अन्य मौजूद थे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!