जालंधर [अंकित शर्मा]। पंजाब में सीबीएसई की तरफ से दसवीं के रिजल्ट जारी करने के लिए पालिसी बना ली गई है। जिसके तहत विद्यार्थियों को असेसमेंट के अनुसार ही उनके अंक मिलेंगे। विद्यार्थियों की असेसमेंट 100 नंबरों के मुताबिक ही होगी, जिसमें 20 नंबर इंटर्नल असेस्मेंट के होंगे, जबकि 80 नंबर्स के यूनिट टेस्ट के दस, मिड टर्म एग्जाम के 30 नंबर और प्री बोर्ड एग्जाम के 40 नंबर्स दिए जाएंगे। यही नहीं किसी स्कूल की तरफ से एक से अधिक बार प्री बोर्ड की परीक्षाएं ली हैं तो ऐसे केस में बोर्ड की तरफ से इन परीक्षाओं में सबसे अधिक सबजेक्ट्स के नंबरों को ही शामिल किया जाएगा, यानी कि उसी के आधार पर उसकी असेसमेंट से नतीजा तैयार होगा।

किसी स्कूल की तरफ से प्री बोर्ड की परीक्षाएं नहीं ली हैं तो ऐसे में रिजल्ट के लिए तैयार की गई स्कूल लेवल कमेटी द्वारा निर्णय लिया जाएगा कि 80 नंबर्स को किस तरह से बांटा जाएगा। जिसके लिए स्कूल मैनेजमेंट को लिखित में जानकारी बोर्ड को देनी होगी।यही नहीं स्कूल की पिछले तीन सालों की परफार्मेंस भी देखी जाएगी। स्कूल में रिजल्ट के लिए सात मैंबरी कमेटी बनेगी, जिसमें पांच तो स्कूल के सदस्य होंगे और दो किसी अन्य स्कूल के होने अनिवार्य हैं। जिसके बाद स्कूल को बोर्ड की तरफ से जारी लिंक पर अपडेट करना होगा।

संस्कृति केएमवी स्कूल की प्रिंसिपल रचना मोंगा ने कहा कि इंटर्नल असेसमेंट स्कूलों की तरफ से करवा ली गई हैं। विद्यार्थियों के प्री बोर्ड भी लिए गए थे और सभी जानकारी बोर्ड की साइट पर अपलोर्ड कर दी गई है। फाइनल नतीजा बोर्ड की तरफ से जारी किया जाना है।

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें