संवाद सहयोगी, जालंधर छावनी : कैंट के विधायक परगट सिंह ने शनिवार को कैंट बोर्ड के सीईओ ज्योति कुमार को जीएसटी खाते से 4.60 करोड़ का चेक सौंपा। इस मौके पर पार्षद सुरेश कुमार शशि, पार्षद पुनीत कौर चड्ढा के अलावा कैंट बोर्ड के तमाम पदाधिकारी मौजूद थे। इससे पहले भी विधायक परगट सिंह कैंट बोर्ड को जीएसटी खाते से 4 करोड़ रुपये दिलवा चुके हैं। यह राशि कैंट के विकास कार्य में इस्तेमाल की जाएगी। परगट सिंह ने बताया कि कैंट बोर्ड दशहरा ग्राउंड को सी लैंड में परिवर्तित करने के लिए कदम उठाए, क्योंकि वे वहां पर स्टेडियम बनवाना चाहते हैं। इसके लिए जितनी भी धनराशि की जरूरत पड़ेगी, सरकार से उपलब्ध करवाएंगे। खेलों में रूचि रखने वालों पर जल्द ही 15 लाख रुपये खर्चे जाएंगे। कैंट के इर्द-गिर्द पेरीफेरी रोड के बारे में उन्होंने कहा कि इसकी कार्यवाही शुरू हो चुकी है। कुछ माह में ही रोड लोकार्पित कर दी जाएगी।

::::::::::

डिटेल आने के बाद लेंगे शिक्षा नीति पर फैसला : कैप्टन

जागरण संवाददाता, जालंधर : केंद्र सरकार की तरफ से लाई जा रही नई शिक्षा नीति के बारे में पंजाब सरकार डिटेल आने के बाद ही कोई फैसला लेगी। ये बात मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिदर सिंह ने शनिवार को अपने फेसबुक लाइव सेशन 'कैप्टन नूं सवाल' के दौरान जालंधर निवासी प्रीत बजाज द्वारा पूछे गए सवाल के जवाब में कही।

कैप्टन ने कहा कि यह अच्छी बात है कि बच्चों का वोकेशनल ट्रेनिग की तरफ रुझान पैदा करने के लिए एजुकेशनल पॉलिसी बनाई जा रही है व पूरी दुनिया में इस किस्म की नीतियां बनी हुई हैं। डिटेल सामने आने पर पंजाब के शिक्षा विभाग द्वारा जांच की जाएगी कि इस में तब्दीली की जानी है या नहीं।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!