जागरण संवाददाता, जालंधर : केन्द्रीय सेहत व परिवार भलाई मंत्रालय द्वारा कोविड टीकाकरण को लेकर जारी दिशा-निर्देशों के बाद शनिवार को डिप्टी कमिश्नर घनश्याम थोरी ने कहा कि जिले में पोलिंग के लिए तैनात समूह स्टाफ को बूस्टर डोज लगाई जाएगी। भले ही वैक्सीन की दूसरी डोज लगने के बाद नौ महीने की अवधि पूरी न हुई हो। प्रमुख सचिव (सेहत) राजकमल चौधरी की प्रधानगी में वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से हुई मीटिग में भाग लेते हुए डिप्टी कमिश्नर ने बताया कि टीकाकरण मुहिम चल रही है और रोजाना 18,000 के करीब डोज लगाई जाती हैं। इसमें तेजी लाते हुए रोजाना 20,000 डोज लगाने के दिशानिर्देश भी जारी किए गए हैं। उन्होंने बताया कि चुनाव ड्यूटी पर तैनात समूह अधिकारियों, कर्मचारियों को कोविड-19 वैक्सीन की एहतियाती खुराक लगाई जाएगी। चुनाव ड्यूटी पर कुल 18,315 स्टाफ तैनात है। इनमें 17733 को पहले ही दोनों डोज लगाई जा चुकी है। इसके अलावा कुल 16,20,280 योग्य लाभपात्रियों में 95.75 फीसद ने पहली व 66.73 फीसद ने दूसरी डोज लगवा ली है। 15 से 18 साल की उम्र के 5,450 लाभपात्रियों को टीकाकरण के तहत कवर किया जा चुका है।

Edited By: Jagran