जालंधर, जेएएनएन। आरटीआइ एक्टिविस्ट सिमरनजीत सिंह ने डीजीपी को शिकायत दी है कि जालंधर से विधायक, चेयरमैन, मेयर, पूर्व मंत्री समेत कई बड़े नेता प्राइवेट जिप्सी पर पुलिस का लोगो लगाकर इस्तेमाल कर रहे हैं। अपनी शिकायत में उन्होंने आरोप लगाया कि विधायक बावा हैनरी, विधायक सुशील रिंकू, पूर्व मंत्री अवतार हैनरी, चेयरमैन दलजीत सिंह आहलुवालिया के साथ चल रही जिप्सी पुलिस की नहीं है, बल्कि इन नेताओं ने इन गाड़ियों को मॉडीफाई करके पुलिस की पायलट गाड़ी का रूप दिया है।

इन गाड़ियों पर पुलिस के लोगो भी लगाए गए हैं। यह पूरी तरह से नियमों खिलाफ है। इनके खिलाफ सेंट्रल मोटर व्हीक्लस रूल्स 1989 और मोटर व्हीक्लस एक्ट 1988 के तहत प्राइवेट गाड़ी को मॉडीफाई करने और पंजाब पुलिस का लोगो लगाकर सरकारी गाड़ी के रूप में इस्तेमाल करने का केस दर्ज किया जाए। उनका आरोप है कि यह गाड़ियां प्राइवेट हैं और इनका सरकारी रूप में इस्तेमाल करना गलत है।

उन्होंने कहा कि पूर्व मंत्री अवतार हैनरी के साथ चलने वाली जिप्सी उनके नाम पर ही रजिस्टर्ड हैं जबकि इसे दिखाया गया है कि यह पुलिस की पायलट गाड़ी है। शिकायतकर्ता ने शिकायत की कापी पुलिस कमिश्नर और डिप्टी कमिश्नर को भी भेजी है। शिकायतकर्ता ने डीजीपी से मांग की है कि इस पूरे मामले की जांच किसी उच्चाधिकारी या एसटीएफ चीफ से करवाई जाए क्योंकि यह सभी लोग प्रभावशाली हैं और स्थानीय तौर पर होने वाली जांच को प्रभावित कर सकते हैं।

प्रभाव बनाने के लिए रखे गए हैं गनमैन

सिमरनजीत सिंह ने शिकायत में कहा है कि इन नेताओं के अतिरिक्त मेयर जगदीश राजा, सीनियर डिप्टी मेयर सुरिंदर कौर, डिप्टी मेयर हरसिमरनजीत सिंह बंटी के पास दो से ज्यादा गनमैन हैं। विधायकों के पास ज्यादा गनमैन हो सकते हैं लेकिन यहां पर गनमैन किसी खतरे के कारण नहीं बल्कि लोगों पर प्रभाव बनाने को लिए गए हैं। शिकायतकर्ता का कहना है कि डिप्टी मेयर हरसिमरनजीत सिंह बंटी के साथ तैनात एएसआइ की सर्किट हाउस में एक प्रोग्राम के दौरान रिवाल्वर भी चोरी हो गई थी। नगर निगम में तैनात पुलिस मुलाजिमों का काम तहबाजारी, बिल्डिंग विभाग की कार्रवाई में सहयोग करना है लेकिन यह नेताओं की सुरक्षा में तैनात हैं।

विधायकों ने कहा, सब कुछ ऑफिशियल

विधायक बावा हैनरी ने कहा कि उनका सब कुछ ऑफिशियल है। कहीं कुछ गलत नहीं है। जिसे जो जांच करवानी है करा लें। विधायक सुशील रिंकू ने कहा कि कहीं कुछ गलत नहीं है। पुलिस के लिए गाड़ी है और पुलिस ही चला रही है तो गड़बड़ कहां से हुई।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!