जागरण संवाददाता, अमृतसर। शुक्रवार की सुबह से ही गुरु नगरी में लगातार बारिश के कारण शहर के ज्यादातर हिस्सों में जाम के हालात बन गए। सड़कों पर पानी जमाा होने के कारण हैरीटेज स्ट्रीट और उसके आसपास के बाजारों में लोगों का चलना मुश्किल हो गया। पुलिस कमिश्रनर विक्रमजीत दुग्गल को जब इसका पता चला तो वह अपना कार्यालय छोड़कर खुद हैरीटेज स्ट्रीट से ट्रैफिक जाम को हटवाने पहुंचे। उधर, जब इस बात का पता एडीसीपी ट्रैफिक जसवंत कौर, एसीपी गुरमीत सिंह सिद्धू को लगा तो वह भी पूरी ट्रैफिक पुलिस की टीम के साथ वहां पहुंच गए। सीपी ने अपनी टीम के साथ हाल बाजार से पैदल ही मार्च शुरू करते हुए ट्रैफिक को हटवाया। उन्होंने फुटपाथ पर कब्जा करके बैठे दुकानदारों को सख्त चेतावनी दी। 

इसके बाद सीपी विक्रमजीत दुग्गल हैरिटेज स्ट्रीट में दाखिल हुए। सारी हैरीटेज स्ट्रीट में बारिश का पानी भरा पड़ा था। अन्य राज्यों से पहुंचे पर्यटक भी गुरु नगरी में जलभराव देखकर दंग थे। इस बीच पुलिस कमिश्रनर अपनी टीम के साथ खुद ट्रैफिक जाम हटवा रहे थे। सीपी ने पैदल चलने वाले लोगों और दुकानदारों की मुश्किलें सुनी और ट्रैफिक पुलिस के कर्मचारियों को आदेश देकर उन्हें तुरंत हल भी करवाया। पुलिस कमिश्नर की अगुआई में पुलिस की एक टीम ने रामबाग, बस अड्डा और शेरां वाला गेट के पास भी जाम हटवाया।

एक योद्धा की तरह उतरे मैदान में

पुलिस कमिश्नर विक्रजी दुग्गल बारिश से भरी सड़कों पर एक योद्धा की तरह उतरे। उनके पैरों में जूते और जुराबें नहीं थी। बस मकसद था कि कोई नागरिक ट्रैफिक जाम और पानी में फंसकर किसी हादसे का शिकार ना हो जाए। लगभग एक घंटे तक उन्होंने जाम हटवाया और फिर अपने कार्यालय की तरफ रवाना हो गए।

घायल पुलिसकर्मी का हाल जानने पहुंचे अस्पताल

वीरवार को सीपी विक्रम जीत दुग्गल घायल पुलिस कर्मी गुरभेज सिंह का हाल जानने अस्पताल पहुंचे। गुरभेज पिछले दिनों सड़क हादसे में जख्मी हो गए थे। वह सी डिवीजन थाने में तैनात हैं। पुलिस कमिश्रनर विक्रम जीत दुग्गल अमृतसर देहाती पुलिस में भी समाज सेवी कामों के लिए जाने जाते रहे हैं।

Edited By: Pankaj Dwivedi