जालंधर, जेएनएन। जब भी देश पर कोई संकट आया है तो देशवासियों ने एकजुट होकर उसका सामना किया है। इस समय भी क‌र्फ्यू के दौरान भी 'योद्धा' जरूरतमंदों की मदद और लोगों की सुरक्षा के लिए आगे आ रहे हैं। उन्हीं में से एक हैं एडीसीपी सुडरविली, जो लोगों की सुरक्षा में जुटी हैं।

एडीसीपी सुडरविली अपने परिवार की परवाह किए बिना शहरवासियों की रक्षा में लगी हैं। परिवार का कोई सदस्य बीमार भी पड़ जाए तो उन्हें देखने की बजाय वह शहरवासियों को बचाने में जुटी हैं। इनकी ड्यूटी ऐसी है कि कभी भी कहीं भी जाना पड़ सकता है, इसलिए वे 24 घंटे अलर्ट रहतीं हैं। वे केवल अपनी ड्यूटी ही नहीं कर रहीं, बल्कि जरूरतमंदों तक खाना व अन्य जरूरी सामान पहुंचाने में भी भूमिका निभा रही हैं। खुद टीम के साथ जाकर गरीबों तक खाना पहुंचा रही हैं। 

हम लोगों के लिए उठा रहे मुश्किलें, वे समझ नहीं रहे 

एडीसीपी सुडरविली बताती हैं कि महिला पुलिस कर्मचारियों को इन नाजुक परिस्थितियों में कई समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। कई महिलाएं दूर-दूर से ड्यूटी देने के लिए आ रहीं हैं और उन्हें घर वापस जाने के लिए कई बार गाड़ी नहीं मिल पा रही। घर पर कोई बीमार हो तो उसे देखने तक नहीं जा पा रहीं। इसके बावजूद कई लोग सरकार की हिदायतें नहीं समझ रहे हैं और बेवजह सड़कों पर घूम रही हैं। उन्हें समझना होगा।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!