धर्मबीर सिंह मल्हार, तरनतारन। पाकिस्तान की कोट कलाखपत जेल में मारे गए सरबजीत सिंह भिखीविंड की बहन दलबीर कौर अटवाल का शनिवार की आधी रात को अमृतसर के निजी अस्पताल में देहांत हो गया। उनका अंतिम संस्कार रविवार को भिखीविंड में किया गया। बालीवुड अभिनेता रणदीप हुड्डा ने गांव पहुंचकर दिवंगत दलबीर कौर के अंतिम दर्शन किए और परिवार के साथ हमदर्दी प्रकट की। रणदीप ने सरबजीत पर बनी फिल्म में उनकी भूमिका निभाई थी।

वर्ष 1990 में जब पंजाब में आतंकवाद चरम पर था सीमा पर स्थित गांव भिखीविंड का सरबजीत सिंह शराब के नशे में सीमा पर करके पाकिस्तान चला गया था। वहा पर उसको पुलिस ने पकड़कर बम धमाकों का आरोपित करार दे दिया। पुलिस का दावा था कि सरबजीत सिंह भारत का कसूस है और मनजीत सिंह बनकर वह भारत से पाकिस्तान आया था।

पाक की अदालत ने सरबजीत को सुनाई थी फांसी की सजा

पाकिस्तान की अदालत में सरबजीत सिंह को फांसी की सजा सुनाई थी। इसका पता चलने पर उनकी बहन दलबीर कौर अटवाल ने कानूनी लड़ाई लड़नी शुरू की। उन्होंने पाकिस्तान की कोट लखपत जेल में बंद सरबजीत को निर्दोष करार देते राष्ट्रीय स्तर पर अभियान छेड़ दिया।

जेल में कैदियों के हमले में गई थी सरबजीत की जान

हालांकि अंत में सरबजीत पर कोट लखपत जेल के अंदर ही कुछ कैदियों ने हमला करके बुरी तरह घायल कर दिया था। बाद में उनकी मौत हो गई थी। उस समय पंजाब सरकार ने सरबजीत को बलिदानी का रुतबा दिया था।सरबजीत सिंह की रिहाई लिए कानूनी लड़ाई लड़ने वाली दलबीर कौर अटवाल को कई मुसीबतों का सामना भी करना पड़ा था। 

रणदीप हुड्डा ने निभाई थी फिल्म में सरबजीत की भूमिका

सरबजीत के बलिदान 'सरबजीत' नाम से बालीवुड फिल्म बनाई गई थी। इसमे अदाकार रणदीप हुड्डा ने सरबजीत और ऐश्वर्या राय बच्चन ने दलबीर कौर की भूमिका निभाई थी। रविवार को अभिनेता रणदीप हुड्डा भिखीविंड पहुंचे और दलबीर कौर को अंतिम विदायी दी। 

Edited By: Pankaj Dwivedi