जागरण संवाददाता, जालंधर : शहर में प्रेशर हॉर्न लगाकर ध्वनि प्रदूषण करने वाले बसों और ट्रकों पर ट्रैफिक पुलिस ने शिकंजा कसा। एडीसीपी ट्रैफिक कुलवंत ¨सह हीर खुद पीएपी चौक पर पहुंचे और ट्रैफिक टीम के साथ बसों और ट्रकों को रोककर चालान कटवाए। इस दौरान 11 ओवरलोडेड टिप्परों को रोककर उन्होंने बाउंड भी कराया। एडीसीपी ट्रैफिक कुलवंत ¨सह हीर ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से शिकायतें मिल रही थीं कि शहर की मुख्य सड़कों के बीच से निकलने वाले ट्रकों, बसों और भारी वाहन प्रेशर हॉर्न का उपयोग करते हैं। इससे सड़क पर पड़ने वाले अस्पतालों के मरीजों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। इस पर ध्यान में रखते हुए ट्रैफिक पुलिस को प्रेशर हॉर्न का उपयोग करने वाले वाहनों पर कार्रवाई के निर्देश दिए गए थे। इस दौरान अकेले पीएपी चौक पर सुबह तीन घंटों के दौरान 20 से अधिक बस व ट्रक रोके गए, जिनमें प्रेशर हॉर्न लगे हुए थे। उनके खिलाफ चालान काटने की कार्रवाई की गई है।

वहीं ओवरलोडेड टिप्परों पर ट्रैफिक पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है। पीएपी चौक पर सुबह के वक्त उन्होंने खुद 11 ओवरलोड टिप्परों को रोका था। कागजों की जांच-पड़ताल के बाद सभी 11 को बाउंड कर दिया गया। उन्होंने कहा कि ओवरलोडेड टिप्परों पर रोजाना कार्रवाई होगी। उन्होंने बताया कि प्रेशर हॉर्न का हमारी सेहत पर काफी बुरा प्रभाव पड़ता है लेकिन कुछ वाहन चालक अपनी मनमर्जी करने से बाज नहीं आते। उन्होंने बताया कि ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने वालों पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!