जागरण संवाददाता, जालंधर : थाना नई बारादरी में स्टडी एक्सप्रेस के मालिक ट्रैवल एजेंट कपिल शर्मा के खिलाफ कनाडा भेजने के नाम पर साढ़े दस लाख की ठगी करने पर केस दर्ज हुआ है। ट्रैवल एजेंट कपिल शर्मा के खिलाफ यह 30वां ठगी का केस है। इसने अब तक लगभग साढ़े चार करोड़ की ठगी की है। ताजा मामला जमशेर के गांव पत्ती कलारा निवासी सलिदर कुमार पुत्र विष्णू दत्त के साथ ठगी का है। पुलिस को दी शिकायत में सलिदर ने बताया कि जून 2018 में उनकी मुलाकात उक्त आरोपित से हुई। आरोपित ने उन्हें कहा था कि वह उनके बेटे को स्टडी वीजा पर कनाडा भेज देगा। इसका कुल खर्च साढ़े 12 लाख रुपये आएगा। उन्होंने दो बैंक ट्रांसफर कर 10,17,000 रुपये आरोपित के बैंक खाते में और 2,33,000 रुपये आरोपित को नकद दे दिए। करीब छह माह तक आरोपित ने बेटे का कनाडा का वीजा नहीं लगवाया। जनवरी 2019 में उन्होंने अपने पैसे वापस मांगे तो आरोपित ने उन्हें दो लाख रुपये लौटा दिए, जबकि बाकी की रकम नहीं लौटाई।

थाना नई बारादरी के एसएचओ सुलखन सिंह ने बताया कि कमिश्नर दफ्तर में दी गई उक्त शिकायत की जांच एंटी ह्यूमन ट्रैफकिग सैल को मार्क हुई थी, जहां एएसआइ सतपाल सिंह ने जांच में आरोपित कपिल शर्मा पर लगे आरोपों को सही पाया। उक्त जांच पूरी होने के बाद पुलिस कमिश्नर दफ्तर के आदेश पर थाना नई बारादरी में उक्त ट्रैवल एजेंट कपिल शर्मा के खिलाफ आइपीसी की धारा 406,420 के तहत केस दर्ज किया गया है।

-मां और ड्राइवर गिरफ्तार, खुद पत्नी समेत फरार : इनमें से कई मामलों में पुलिस ने उसकी कंपनी स्टडी एक्सप्रेस में काम करने वाली हेड काउसलर हिना, अकाउंटेंट रमेश कुमार, प्रताप और ड्राइवर बीटा को भी नामजद किया है, जबकि तीन मामलों में आरोपित की मां पिकी शर्मा और आधा दर्जन के करीब मामलों में उसकी पत्नी अनीता शर्मा को आरोपित बनाया है। इनमें से आरोपित की मां पिकी शर्मा और ड्राइवर बीटा को पुलिस गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है, जबकि ठगी के उक्त सभी 30 मामलों का मुख्य आरोपित कपिल शर्मा अपनी पत्नी के समेत शहर छोड़ कर भागा हुआ है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!