जागरण संवाददाता, अमृतसर: अकाल तख्त साहिब के आदेश पर शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी द्वारा गठित 11 सदस्यीय कमेटी की पहली बैठक में फैसला लिया गया कि कमेटी के सदस्य 15 दिनों के भीतर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह के साथ मुलाकात करेंगे। उनको बंदी सिखों की रिहाई के लिए ज्ञापन सौंपे जाएंगे।

एकजुटता दिखाते हुए करवाई जाएगी रिहाई

इसी तरह दिल्ली व कर्नाटक के मुख्यमंत्रियों से इस मुद्दे पर मुलाकात कर ज्ञापन सौंपे जाएंगे। जिन सिखों की रिहाई का मामला राज्यों के स्तर पर हल होने वाला है, उनको रिहा करवाने के लिए राज्य के मुख्यमंत्रियों से मिला जाएगा। एसजीपीसी के अध्यक्ष हरजिंदर सिंह धामी ने कहा कि जो अपनी सजाएं पूरी कर चुके हैं, कमेटी पूरी तरह एकजुटता दिखाते हुए उनकी रिहाई करवाएगी।

यह भी पढ़ेंः- Jalandhar Today News : एफएंडसीसी की बैठक नगर निगम में दोपहर तीन बजे, जानिए और क्या खास है आज

15 दिनों के भीतर मुकम्मल होगा पूरा अभियान

इसके लिए उस केस को भी आधार बनाया जाएगा, जिसमें पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या करने वाले को रिहा कर दिया गया है। धामी ने कहा कि प्रो. दविंदरपाल सिंह भुल्लर और गुरदीप सिंह खैड़ा की रिहाई के लिए दिल्ली और कर्नाटक सरकार रुकावट बन रही है, इसलिए इन दोनों सरकारों के मुख्यमंत्रियों से मिला जाएगा। यह सारा अभियान 15 दिनों के भीतर मुकम्मल किया जाएगा। जो सिख जेलों में बंद है उनकी सूची भी सरकारों को सौंपी जाएंगी।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री से भी की जाएगी मुलाकात

धामी ने कहा कि गत वर्ष होला महल्ला के मौके पर कोविड पाबंदी के मद्देनजर तख्त हजूर साहिब में नगर कीर्तन के दौरान जिन 465 सिखों पर केस दर्ज हुए हैं, उनकी भी पैरवी की जाएगी। इस मामले को लेकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री तक भी पहुंच की जाएगी, ताकि केस को रद करवाया जाए।

यह भी पढ़ेंः Punjab Politics: 2019 के लोकसभा चुनाव में सनी देयोल से हार गए थे सुनील जाखड़, अब बने उन्हीं के 'अपने'

बैठक में शामिल हुए ये लोग

बैठक में दमदमी टकसाल के मुखी बाबा हरनाम सिंह धुम्मा, तरना दल के हरियांवेला वालों के बाबा निहाल सिंह, शिअद अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल, अकाली दल अमृतसर के अध्यक्ष सिमरनजीत सिंह मान की ओर से जसकरण सिंह, काहन सिंह वाला, हरियाणा सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष जत्थेदार बलजीत सिंह दादूवाल, दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष हरमीत सिंह कालका, अकाली दल दिल्ली के अध्यक्ष परमजीत सिंह सरना, दिल्ली कमेटी के पूर्व अध्यक्ष मंजीत सिंह जीके, तख्त पटना साहिब प्रबंधकीय बोर्ड के प्रधान अवतार सिंह हित, तख्त हजूर साहिब प्रबंधकीय बोर्ड के अध्यक्ष भूपिंदर सिंह मिन्हास की ओर से परमजोत सिंह चाहल बैठक में शामिल हुए।

Edited By: Deepika