जागरण संवाददाता, होशियारपुर

अमीरी की चाहत में ट्रेवल एजेंट के हत्थे चढ़े तीन युवकों की गरीबी तो खत्म नहीं हुई, लेकिन उनकी जेब की पूंजी भी चली गई, क्योंकि 75-75 हजार रुपये लेकर ट्रेवल एजेंट ने उन्हें सब्जबाग दिखाकर विदेशी धरा पर भेज दिया। वहां पर जब ये युवक पहुंचे तो उनके पैरों तले उस समय जमीन सरक गई, जब उन्हें काम बताया गया था कुछ और तथा दिया जाने लगा कोई और काम। सुनहरे सपने संजो कर विदेशी धरा पर पहुंचे इन युवकों को समझने में तनिक भी देरी न लगी कि उनके साथ ठगी हो गई है।

फगवाड़ा के रहने वाले तीनों युवक रजत खन्ना, नरेश कपूर और अमनदीप ठगी का शिकार होकर अब वतन लौट आए हैं। उन्होंने बताया कि होशियारपुर की जिला परिषद मार्किट में उक्त ट्रेवल एजेंट का आफिस है। उसने तीनों युवकों को दुबई भेजने के लिए 75-75 हजार रुपये लिए थे। ठगी का शिकार हुए युवकों ने शुक्रवार को यूथ डेवलपमेंट बोर्ड पंजाब के पूर्व सीनियर वाइस चेयरमैन संजीव तलवाड़ को अपनी व्यथा सुनाई।

--------------------

रिक्शा चालक के बेटे ने कर्ज लेकर दिया था ट्रेवल एजेंट को पैसा

इस बारे में अमनदीप ने बताया कि उसका पिता रिक्शा चलाता है। उज्ज्वल भविष्य के लिए वह होशियारपुर के एक ट्रेवल एजेंट के माध्यम से लांड्री के काम के लिए दुबई गया था। मगर, उसे जिस कंपनी में काम का वीजा मिला था, वहां पर उसे न भेजकर किसी कोल्ड स्टोर में काम के लिए भेज दिया गया।

उसने बताया कि उन्हें एजेंट ने दो साल के वर्क परमिट का आश्वासन देकर दुबई भेजा था। मगर, बाद में पता चला कि उनका सिर्फ एक महीने का वीजा है, वह भी टूरिस्ट वीजा है। मजबूरी में उन्हें कोल्ड स्टोर की नौकरी दी गई। 22 दिन काम करवाने के बाद उन्हें निकाल दिया गया। अमनदीप के बताया कि वह बेहद ही गरीब परिवार से संबंधित है। उसने ट्रेवल एजेंट को 75 हजार रुपये कर्ज लेकर दिए थे। वहां उनके सिर पर न तो छत थी, न ही कोई पैसा और न ही कोई खाने की व्यवस्था थी। ऐसे में सड़क किनारे लगे पोल का सहारा लेकर वह रात गुजारता था। इसी तरह से नरेश कपूर व रजत खन्ना भी परेशान थे, क्योंकि उनके साथ भी ठगी की गई थी।

अमनदीप ने बताया कि कोई रास्ता न देखकर उन तीनों ने उस समय कहीं लेबर का काम कर 450 दिरहाम कमाए, वो भी दुबई में एक दिन ओवर स्टे होने के कारण जुर्माने में चले गए। बड़ी मुश्किल से पैसे का जुगाड़ करके वे वतन लौटे हैं।

----------------

युवाओं को दिलाया जाएगा इंसाफ : तलवाड़

तलवाड़ ने युवाओं की व्यथा सुनने के बाद बताया कि जिस एजेंट के माध्यम से ये लोग विदेश गए थे, उसके खिलाफ पहले से ही धोखाधड़ी की कई शिकायतें सामने आ चुकी हैं। उन्होंने कहा कि बहुत से मामलों में शिकायतकर्ता थोड़े बहुत पैसे लेकर अपनी शिकायत वापस ले लेता है, जिससे ठग ट्रेवल एजेंटों के हौंसले और बढ़ जाते हैं और पुलिस की तरफ से भी समय रहते कार्रवाई न करने के कारण भी शिकायतकर्ता अपनी दी शिकायत पर कार्रवाई नहीं करवाते।

तलवाड़ ने युवाओं को विश्वास दिलाया कि उन के साथ हुई हर धोखाधड़ी का हिसाब लिया जाएगा।

-----------------

शिकायत मिलने पर होगी कार्रवाई : डीएसपी

डीएसपी (सिटी) सुख¨वदर ¨सह ने कहा कि पीड़ित युवक पुलिस से शिकायत करें। पुलिस मामले की जांच करके धोखाधड़ी करने वाले ट्रेवल एजेंट के खिलाफ कार्रवाई करेगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!