जेएनएन, होशियारपुर : श्रीरामलीला कमेटी ने रामलीला मंचन के तीसरे दिन भगवान राम ने ऋषि मुनियों के यज्ञ में विघ्न डालने वाली ताड़का राक्षसी का वध कर ऋषियों को उसके अत्याचार से मुक्ति दिलाई।

मंचन में दिखाया गया कि किस प्रकार धर्म कार्य में विघ्न डालने वाली ताड़का के अत्याचारों की गाथा ऋषियों ने भगवान राम को सुनाई और उन्हें उसका वध करने की पुकार की। जिस पर भगवान ने ताड़का का वध किया और धर्म की स्थापना की। इस दौरान इस दृश्य का मंचन बहुत ही सुंदर ढंग से किया गया कि देखने वाले भावविभोर हो उठे। इस अवसर पर श्रीरामलीला कमेटी के प्रधान शिव सूद, गोपी चंद कपूर, आरपी धीर, प्रदीप हांडा, डॉ. बिंदुसार शुक्ला, तरसेम मोदगिल, राकेश सूरी, निपुण शमर, राकेश डोगरा, रा¨जदर मोदगिल, नरोत्तम शर्मा, अश्वनी शर्मा, मनोहर लाल जैरथ, कृष्ण गोपाल आनंद, अश्वनी गैंद, बंटी नंबरदार, योगेश कुमरा, संजीव, कुनाल सहित अन्य सदस्य एवं श्रद्धालु मौजूद थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!