जेएनएन, होशियारपुर : साझा अध्यापक मोर्चा पंजाब द्वारा एसएसए व रमसा अध्यापकों द्वारा अपनी वेतन कटौती के विरोध में रखे मरणव्रत के समर्थन व पंजाब के समूह अध्यापकों की मांगों के प्रति सरकार के नकारात्मक रवैये के विरोध व सरकार को गहरी नींद से जगाने के लिए आज जिले के ज्यादातर अध्यापक रोष स्वरूप स्कूलों में काले बिल्ले लगाकर विद्यार्थियों को पढ़ाने पहुंचे।

इस अवसर पर साझा अध्यापक मोर्चे के नेताओं ने कहा कि पंजाब सरकार द्वारा अपनाई जा रही अध्यापक विरोधी नीति से अध्यापक वर्ग के साथ साथ पूरे मुलाजिम वर्ग में भारी रोष है। अगर सरकार ने अपनी यह नीति जल्द न बदली व अध्यापकों की मांगों का हल न किया तो आने वाले समय मे सरकार के विरुद्ध संघर्ष और तीखा किया जाएगा। बाद दोपहर मोर्चे के अध्यापक नेताओं ने जिले के दोनों जिला शिक्षा अधिकारियों को उनकी तरफ से अध्यापकों के प्रति अपनाए गए नकारात्मक रवैये के विरोध में मोर्चे की तरफ से संकेतक नोटिस दिया गया और भविष्य में ऐसा व्यवहार न दोहराने की बात की। इस अवसर पर ¨प्रसिपल अमनदीप शर्मा, ज¨तदर ¨सह, सुखदेव डासिवाल, कमल किशोर,अनिल ऐरी, जसवीर ¨सह, इंद्रजीत ¨सह विर्दी, मनजीत ¨सह, बलजीत ¨सह सहित मोर्चे के बहुत से नेता हाजिर थे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!