संवाद सहयोगी, होशियारपुर

पंजाब पुलिस किस प्रकार गरीब के साथ धक्का और सरमाएदार का साथ दे रही है, इसकी मिसाल होशियारपुर के थाना माहिलपुर में देखने को मिली है। पुलिस के व्यवहार से एक गरीब परिवार इस हद तक दुखी हो गया कि उसे इंसाफ के लिए प्रेस का सहारा लेना पड़ा। शुक्रवार को प्रेस क्लब होशियारपुर में सेवा ¨सह पुत्र हरबंस ¨सह निवासी गांव खड़ोदी थाना माहिलपुर ने अपने परिवार सहित बताया कि 27 जुलाई को उसके पड़ोसी आपस में जमीन की तक्सीम होने के बाद गली में सीवरेज डाल रहे थे। इसके चलते उसकी माता कशमीर कौर ने सीवरेज डालने का कारण पूछा, उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। इस पर कशमीर कौर ने पंच से शिकायत की, तो उन्होंने मौके पर आकर काम बंद करा दिया।

इस बात से गुस्साए पड़ोसी ने बाहर से कुछ लोगों को बुला कर सेवा ¨सह पर हमला कर दिया। इस दौरान उसे बचाने आए उसके पिता हरवंस ¨सह और माता कशमीर कौर पर भी तेजधार हथियारों से हमला कर उन्हें गंभीर रूप से जख्मी कर दिया। उक्त तीनों घायलों को ग्रामीणों ने इलाज के लिए सरकारी अस्पताल माहिलपुर में भर्ती कराया।

उन्होंने बताया कि थाना माहिलपुर पुलिस को शिकायत करने पर दो दिन तक कोई भी नहीं आया। 29 जुलाई को थाना माहिलपुर का एएसआइ दलजीत ¨सह आया और कहने लगा कि उनके के उनके खिलाफ पर्चा दर्ज हुआ है। जिसे सुनते ही उनके पैरों तले से जमीन खिसक गई। बार-बार बात करने पर भी जब सेवा ¨सह और उसके परिवार की कोई सुनवाई नहीं हुई, तो उन्होंने अपने रिश्तेदारों को बुला लिया और उनके कहने पर 1 अगस्त को उनके बयान दर्ज किए गए।

उन्होंने बताया कि अभी पर्चा दर्ज ही हुआ था कि एएसआइ दलजीत ¨सह कहने लगा कि राजीनामा कर लो अन्यथा तुम्हारे खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। सेवा ¨सह के साथ प्रेस क्लब में कशमीर कौर, अमरीक ¨सह, सुखवीर कौर व हरबंस ¨सह ने बताया कि अगर पुलिस ने अगले एक सप्ताह के अंदर हमलावरों के खिलाफ कोई कार्रवाई नही की, तो थाना माहिलपुर का घेराव किया जाएगा।

----------------

मेडिकल पैनल के आधार पर की जा रही कार्रवाई

उधर, इस संदर्भ में थाना प्रभारी माहिलपुर बलजीत ¨सह हुंदल ने बताया कि 6 अगस्त को तीन डाक्टरों के पैनल ने मेडिकल के बाद बताया था कि उक्त व्यक्तियों ने खुद ही चोट लगाई है। उन्होंने कहा कि इसी इसी के आधार पर कारवाई की जा रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!