संवाद सहयोगी, माहिलपुर : माहिलपुर के आसपास लोगों में आवरलोड टिप्परों की वजह से लोगों का गुस्सा फूट गया, जिसके चलते सरकारी तंत्र के खिलाफ गुस्साए लोगों ने ट्रैफिक जाम कर जमकर प्रदर्शन किया। करीबन तीन घंटे तक चले प्रदर्शन से पुलिस के माथे पर पसीना छूट आया। मौके पर पहुंचे एसएचओ ने लोगों को आश्वासन दिलाया कि टिप्पर चालकों के खिलाफ कार्रवाई होगी। इसके बाद लोगों ने जाम खोला। तब जाकर पुलिस ने राहत की सांस ली।

प्रदर्शन को संबोधित करते हुए अमरजीत सिंह भिदा व नरिदर मोहन निदी ने कहा कि नगर कमेटी माहिलपुर के अधिकारी की ढीली कार्यशैली के कारण जैजों रोड पर कई दुकानदारों ने कर्मचारियों से मिलीभगत कर अतिक्रमण किए हुए हैं और पीडब्ल्यूडी विभाग शहर में गुजरने वाली सड़कों की रिपेयर नही कर रहा जबकि सड़क पर जगह-जगह गहरे गड्ढे बन गए हैं। उन्होंने कहा कि सड़क पर चलते आवरलोडेड टिप्परों की वजह से सड़क टूट चुकी है। बड़े वाहनों के गुजरने पर बजरी व धूल मिट्टी उड़कर दुकानों में रखे सामान को खराब कर रही है। इस सड़क पर पैदल चलना भी चलना दूभर हो गया है। प्रदर्शनकारियों ने पीडब्ल्यूडी विभाग, कमेटी अधिकारी माहिलपुर व एसएचओ माहिलपुर के साथ साथ पंजाब सरकार मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए कहा कि सरकार की गलत नीतियों के कारण लोगों का जीना दूभर हो चुका है। इस प्रदर्शन में मनीष बंसल, रणजीत सिंह सहोता, संदीप सिंह केंडोवाल, रवि बग्गा, चेतन गग, प्रीत कुमार, शानू राणा, यशपाल सेठी, बलवंत सिंह भट्टी, भूपेंद्र कुमार, डॉ वरुण सहोता, हरजिदर सिंह संधि, बलबीर सिंह, संजीव कुमार, हरजिदर सिंह, सलमान खान, राजकुमार, बलवीर सिंह कोठी, सोढ़ी राम व सुरजीत सिंह भी उपस्थित थे। बता दें कि जेजों से लेकर माहिलपुर तक करीबन पंद्रह किलोमीटर दूर तक सड़क टूटी हुई है। हिमाचल प्रदेश को जाने वाले वाहन इसी रास्ते का प्रयोग करते हैं।

दशहरा के बाद करेंगे समस्या का समाधान

इस धरना प्रदर्शन की खबर मिलते ही धरनास्थल पर पहुंचे एसएचओ माहिलपुर सतविदर सिंह धालीवाल ने प्रदर्शनकारियों को आश्वासन दिया कि दशहरा पर्व के बाद संबंधित विभागों के अधिकारियों से बात कर समस्याओं का समाधान करवा दिया जाएगा उसके बाद प्रदर्शनकारियों ने धरना समाप्त किया।

Edited By: Jagran