जागरण संवाददाता, होशियारपुर : अवैध शराब के मामले में थाना मॉडल टाउन को बड़ी सफलता मिली है, पुलिस ने अवैध शराब के मामले में 211 अवैध शराब की पेटी बरामद कर एक आरोपित को काबू कर तीन लोगों पर मामला दर्ज किया है। आरोपितों की पहचान भूपेश कुमार थापा पुत्र राजेश कुमार निवासी गली नंबर-01 मोहल्ला गौतम नगर, चिटू उर्फ चिटू पुत्र मंगल निवासी शेखां मोहल्ला व अमरजीत सिंह पुत्र बलवीर सिंह निवासी भागोवाल थाना बुल्लोवाल के रूप में हुई है। पुलिस ने मामले में पुलिस ने अमरजीत सिंह को गिरफ्तार कर लिया है जबकि मुख्य तस्कर भूपेश थापा व उसका हिस्सेदार चिटू अभी फरार चल रहा है। मामले की जानकारी देते हुए थाना प्रभारी भरत मसीह ने बताया कि गत दिवस एएसआई रविदंर सिंह पुलिस पार्टी के साथ इलाके में गश्त कर रहे थे, इस दौरान उन्होंने सूचना मिली की इलाके में थापा व उसके साथी बड़े स्तर पर अवैध शराब की सप्लाई करते हैं। इलाके में शराब के ट्रक भर-भर कर डिमांड के हिसाब से सप्लाई करते हैं और इस समय भी इलाके में शराब की तस्करी में जुटे हुए हैं और एक ट्रक में लगभग 600 पेटी शराब सप्लाई की गई है। सूचना के आधार पर पुलिस ने तुरंत ट्रेप लगाया व इलाके में छानबीन शुरु कर दी। इस दौरान जब पुलिस पार्टी हरदोखानपुर चोअ की तरफ गई तो उन्हें चोअ के बीचो बीच एक निचली जगह में शराब की 211 पेटी बरामद हुईं। जबकि उन्हें मौके पर अमरजीत सिंह भी मिला जो ग्राहकों का इंतजार कर रहा था जिसे पुलिस ने काबू कर लिया। जबकि पुलिस की कार्रवाई की सूचना मिलते ही थाना व उसके साथी चिटू ने मोबाईल स्वीच ऑफ कर दिया व मौके से फरार हो गए। मोबाईल इस लिए स्वीच ऑफ किया कि पुलिस उनकी लोकेशन को ट्रेस न कर सकें। सूचना के आधार की छापेमारी

थाना प्रभारी इंस्पेक्टर भरत मसीह ने बताया कि उन्हें सूचना मिली थी कि आरोपी इलाके में बड़े स्तर पर शराब की सप्लाई करते हैं और गत दिवस भी शराब से भरा ट्रक हरदोखानपुर इलाके में उतरा था। लेकिन पुलिस की इसकी सूचना थोड़ी देरी से मिली जब तक पुलिस मौका ट्रेस कर छापेमारी करती तब तक लगभग 4 सौ के करीब शराब की पेटियां ठिकाने लगा दी गई हैं। यां फिर ऐसा कहा जा सकता है वह सप्लाई कर दी गई हैं। चूंकि शराब का ट्रक आने से पहले ही जितने सप्लाई वाले होते हैं उन्हें निश्चित जगह के बारे में बता दिया जाता है और साथ के साथ ही शराब सप्लाई हो जाती है। केवल वहीं शराब मौके पर बची पड़ी थी जिसे अभी सप्लाई करना था और सप्लाई लेने वाले किसी कारण समय रहते मौके पर पहुंच नहीं सके। कहां सप्लाई होगी शराब, थापा बताता था

उन्होंने बताया कि अमरजीत से पूछताछ की जा रही है और उसने बताया कि उसका काम केवल सप्लाई देना था और उसे केवल यही पता है कि शराब थापा की है। शराब कहां से आई है कैसे आई हैं और कहां-कहां सप्लाई होगी उसे इसके बारे में कुछ नहीं पता। वह तो केवल इतना जानता है कि शराब उतार कर ठिकाने लगानी है। कैसे ठिकाने लगानी ही सारा ऑपरेट थापा अपने आप करता है। उन्होंने बताया कि यह बात जरुर सामने आई है कि थापा के सर्कल में आगे 12 से 14 लोग ऐसे बड़े सप्लायर हैं जो शराब उठाकर शहर के अलग अलग इलाकों में सप्लाई करते हैं। जांच की जा रही है

थाना प्रभारी भरत मसीह ने बताया कि अवैध शराब के मामले में थापा पर पहले भी 12 मामले दर्ज हैं जो अभी तक सामने आए हैं जो थाना सिटी व थाना मॉडल टाउन में हैं बाकी अन्य थानों में कितने मामले में यह जांच की जा रही है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!