संवाद सहयोगी, होशियारपुर : बुधवार देर शाम होशियारपुर के वार्ड नंबर 22 के मोहल्ला पिपलांवाला में दिल दहला देने वाले हादसे में एक युवक की मौत हो गई। हादसे का कारण गली में गलत तरीके से बनाया गया स्पीड ब्रेकर बना। युवक की पहचान हिमांशु पुत्र स्व. रणजीत कुमार निवासी पिपलांवाला के रूप में हुई। युवक अपनी दो बहनों का इकलौता भाई था। हादसा इतना जबरदस्त था कि इस हादसे में युवक की स्कूटी पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई। हादसे में गंभीर रूप से घायल हिमांशु को पहले राहगीरों ने तुरंत सिविल अस्पताल पहुंचाया परंतु हालत गंभीर देखते हुए उसे रेफर कर दिया गया जहां उपचार के दौरान हिमांशु ने दम तोड़ दिया। इस हादसे से इलाके में शोक की लहर है और जिन लोगों ने गलत ढंग से स्पीड ब्रेकर बनाया था उन लोगों पर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। लोगों की मानें तो स्पीड ब्रेकर बनाते समय भी रोका गया था परंतु अपनी जिद में स्पीड ब्रेकर बनाया गया था। पुलिस को दिए बयान में हिमांशु के चाचा अमरजीत ने बताया कि उसका भतीजा हिमांशु पुत्र स्व. रणजीत कुमार जो बुधवार शाम करीब छह बजे अपने स्कूटी पर घर जा रहा था कि जैसे ही वह गली में पहुंचा तो गली में पिछले काफी समय से बने एक अवैध स्पीड ब्रेकर से जंप करने पर हिमांशु का संतुलन बिगड़ गया। इस दौरान हिमांशु का सिर सामने एक दीवार से टकरा गया और गंभीर रूप से घायल हो गया। हिमांशु को तुरंत इलाज के लिए सरकारी अस्पताल लाया गया यहां पर डाक्टरों ने उसकी हालत को देखते हुए निजी अस्पताल रेफर कर दिया यहां पर वीरवार सुबह इलाज के दौरान हिमांशु की मौत हो गई। अवैध स्पीड ब्रेकर बनाने के खिलाफ कार्रवाई की मांग

अमरजीत ने बताया कि उक्त स्पीड ब्रेकर को लेकर मोहल्ला निवासियों की तरफ से पहले भी कई बार शिकायत की थी। मगर कोई भी बात सुनने को तैयार ही नहीं हो रहा था। अमरजीत ने बताया कि उक्त स्पीड ब्रेकर से पहले भी कई हादसे हुए हैं। मृतक के परिवारिक सदस्यों ने पोस्ट मार्टम के बाद उक्त स्थान पर रखकर स्पीड ब्रेकर बनाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की। उन्होंने कहा कि जब तक आरोपितों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होती तब तक संघर्ष किया जाएगा।

-------------

मृतक के परिवार की तरफ से की शिकायत के आधार पर आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

-एसआइ देस राज, थाना प्रभारी, माडल टाउन

Edited By: Jagran