मुनिदर शर्मा, गढ़दीवाला

नगर कौंसिल द्वारा शहर की घनी आबादी के बीच रेहड़ी मार्केट के लिए छोड़ी गई जगह में उगी झाड़ियों को विगत दिनों लगी आग की घटना से नगर कौंसिल कोई सबक नहीं लिया। इस घटना के बाद नगर कौंसिल इस जगह की सफाई करवाने के लिए अभी तक हरकत में नहीं आई है। अगर भविष्य में फिर कभी आग की घटना हुई तो आसपास की दुकानों के अलावा कुछ घर में इसकी चपेट में आ सकते हैं। जिसको लेकर आसपास दुकानों व घरों के लोगों में डर का माहौल पैदा कर दिया है। बावजूद इसके नगर कौंसिल इस रेहड़ी मार्केट के लिए छोड़ी गई जगह में घास फूस व बड़ी-बड़ी झाड़ियों को साफ करने की बजाय हाथ पर हाथ धरे बैठी है। जिससे यह बात बिल्कुल साफ है कि नगर कौंसल किसी बड़े हादसे के इंतजार में है। अगर वर्तमान समय की बात की जाए तो इस रेहड़ी मार्केट के लिए छोटी गई जगह पर उगी घास फूस की झाड़ियों ने यहा एक जंगल का रूप धारण कर लिया है। आसपास के लोगों ने बताया कि यहां हर साल आग लगने की घटना होती है, लेकिन बावजूद इसके नगर कौंसिल यहां उगी घास व झाड़ियों की सफाई करवाने की कोई जरूरत नहीं समझ रही। जिसको लेकर नगर कौंसिल गंभीर नजर नही आ रही है। जिससे नगर कौंसिल की लापरवाही का खामियाजा आम लोगों को भुगतना पड़ सकता है। नगर कौंसिल की लापरवाही के कारण शहर के बीचों बीच घनी आबादी के बीच यह जगह अब एक जंगल का रूप धारण कर चुकी है। जिसमें फिर से यहां आग का तांडव लोगों का नुकसान कर सकता है।

पिछले 11 सालों से इस रेहड़ी मार्केट का काम अधर में ही लटका हुआ है, लेकिन गढ़दीवाला को रेहड़ी मार्केट नसीब नहीं हो सकी है। जब नगर कौंसिल में कोई नई कमेटी का गठन होता है, तो रेहड़ी मार्केट बनाने के लिए प्रस्ताव डाला गया है का रटारटाया जबाब मिलता रहता है। जबकि हकीकत यह है कि गढ़दीवाला में रेहड़ी मार्केट को बनाने के लिए ईमानदारी से प्रयास नही किया जा रहा है। लाखों रुपये की राशि हुई बर्बाद

2009 के करीब शिवालय मंदिर कमेटी की दुकानों के पीछे नगर कौंसिल की जगह पर रेहड़ी मार्केट बनाने के लिए लाखों रूपये की लागत से इंटरलॉकिग टाइलें लगाई गई थी। लोगों को रेहड़ी मार्केट तो नही मिल सकी, लेकिन लोग इस जगह को सार्वजनिक शौचालय के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं। जिससे इस रेहड़ी मार्केट पर नगर कौंसिल द्वारा खर्च की लाखों रुपये की राशि गंदगी की भेंट चढ़ रही है। जिसकी नगर कौंसिल को कोई परवाह तक नहीं है। जल्द होगी रेहड़ी मार्केट की सफाई: ईओ

नगर कौंसिल के ईओ सिमरन ढींढसा ने कहा कि मामला उनके ध्यान में है। रेहड़ी में उगी झाड़ियों की जल्द ही सफाई करवाई जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!