जागरण संवाददाता, होशियारपुर : होशियारपुर की भांग की क्वालिटी एक नशेड़ी के लिए मुसीबत बन गई। भांग की तोड़ में नशेड़ी अमृतसर से होशियारपुर आ पहुंचा। पुलिस ने धोबीघाट के पास से उसे काबू कर उसके पास से 150 प्रतिबंधित गोलियां बरामद की हैं। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। आरोपित विजय कुमार उर्फ जौनी पुत्र जसवंत सिंह निवासी मोहल्ला मुस्ताबाद, बटाला रोड, अमृतसर का रहने वाला है। सिटी थाना के प्रभारी एसआइ ब्रिज मोहन ने बताया कि रविवार को एएसआइ मदन सिंह ने धोबीघाट के पास आरोपित को शक के आधार पर रोक कर जब उसकी तलाशी ली तो उसके पास से 150 प्रतिबंधित नशीली गोलियां बरामद हुईं।

विजय कुमार ने बताया कि वह नशे का आदी है। शौक शौक में उसने दोस्तों के साथ नशा लेना शुरू किया और अब नशे का आदी बन गया है। काफी छोड़ने की कोशिश की लेकिन नशा छूट नहीं रहा था। विजय ने बताया कि वह ऑटो चलाकर परिवार का पालन-पोषण करता था पर ऑटो से उसे इतनी आमदन नहीं थी कि वह नशे की पूर्ति कर सके। नशे की पूर्ति के लिए वह नशीली गोलियां बेचने लगा। उसने एक दिन एक व्यक्ति ने भांग पिला दी। भांग का नशा उसे अच्छा लगा और उसके पूछने पर उस व्यक्ति ने उसे बताया कि वह यह भांग की गोली, होशियारपुर के कंडी का इलाके से लाया है। उसने उसे यह भी बताया कि होशियारपुर की भांग काफी स्ट्रांग होती है और बढि़या क्वालिटी की होती है। रविवार को उसका मन भांग का नशा करने का हुआ और वह भांग की तलाश में होशियारपुर पहुंच गया। वह जब भांग ढूंढते हुए धोबीघाट की तरफ जा रहा था को पुलिस के हत्थे चढ़ गया। विजय ने कहा कि वह भांग के चसके में फंस गया। यहां होती है भांग

बता दें कि होशियारपुर एक ऐसा इलाका है जहां मौसम के प्रभाव व कंडी का इलाका होने के कारण भांग की क्वालिटी काफी बढि़या होती है और इसी कारण हर साल शराब के ठेके के साथ भांग का ठेका भी चढ़ता है।

पहले भी हैं विजय पर पर्चे दर्ज

एसआइ ब्रिज मोहन ने बताया कि विजय पर पहले भी अमृतसर व तरनतारन में मामले दर्ज हैं। विजय तरनतारन में एक चोरी के मामले में भी वांछित है। जिसके संबंध में तरनतारन की पुलिस को सूचना दे दी गई है। विजय को कोर्ट में पेश कर पूछताछ के लिए रिमांड मांगा गया है। प्राथमिक पूछताछ में विजय ने बताया कि वह नशीली गोलियां अमृतसर व बटाला से खरीदता था। विजय पर अमृतसर के डिवीजन ए में एक व तरनतारन में तीन मामले दर्ज हैं। विजय से पूछताछ की जा रही है कि वह नशीली गोलियां कहां-कहां सप्लाई करता था। यदि वह होशियारपुर में भी नशीली गोलियां बेचता है तो कहां-कहां बेचता है और इसके खरीददार कौन हैं। कई अन्य लोगों के नाम सामने आने की उम्मीद है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!