संवाद सहयोगी, होशियारपुर : पति से विवाद करके नहर में बच्चों के साथ महिला कूद गई थी लेकिन वह बच गई और उसके बच्चों की मौत हो गई थी। इस मामले में महिला को उम्रकैद की सजा सुनाई गई है। उसकी पहचान इंदू पठानिया वासी तलवाड़ा के रूप में हुई है। जिला व सत्र न्यायाधीश नीलम अरोड़ा ग्रेड-1 की अदालत ने 50 हजार रुपये का जुर्माना भी किया है और जुर्माना न देने पर छह माह अतिरिक्त सजा काटनी होगी। पुलिस ने यह मामला इंदू के पति अजय कुमार के बयान पर दर्ज किया था।

15 मई, 2019 को पुलिस को दिए बयान में अजय कुमार वासी बहटोलू थाना तलवाड़ा ने बताया कि वह सीआरपीएफ चंडीगढ़ में नौकरी करता है। 14 मई को घर से छुट्टी काटकर ड्यूटी पर आया था। इस दौरान पत्नी इंदू ने फोन पर झगड़ा किया और कहा कि वह ससुराल परिवार से तंग है क्योंकि यहां उसकी इज्जत नहीं होती इसलिए वह अकेले रहना चाहती है। इस पर उसने कुछ दिन समय निकालने के लिए कहा और आश्वासन दिया था कि वह उसे कहीं और मकान लेकर देगा। इस बात पर इंदू ने फोन काट दिया और अगले दिन उसके पिता नंदलाल का फोन आया। उन्होंने बताया कि इंदू घर से दोनों बच्चों हर्षिता और अनित को लेकर दवाई लेने का बहाना बनाकर चली गई है। इसके बाद से उसका फोन भी बंद आ रहा है। कुछ ही देर बाद पता चला कि इंदू ने बच्चों के साथ झीर का खूंह के पास नहर में छलांग लगा दी है। इसमें दोनों बच्चों की मौत हो गई और इंदू बच गई थी।

Edited By: Jagran