टांडा, जागरण टीम: नशे की ओवरडोज से एक युवक की मौत हो गई। युवक का शव टांडा में रेलवे फाटक के पास सुनसान इलाके में मिला। मृतक की पहचान हरजीत सिंह निवासी डढियाला, टांडा के रूप में हुई है। हरजीत मेहनत मजदूरी करता था।

बता दें कि पांच दिन पहले भी इसी तरह एक व्यक्ति की नशे की ओवरडोज से मौत हो गई थी। इस तरह हो रही मौतों के कारण नशे के खिलाफ चलाई जा रही पुलिस की मुहिम भी सवालों के घेरे में आ गई है।

जानकारी अनुसार सोमवार शाम चंडीगढ़ कालोनी के पास पड़ते रेलवे फाटक के पास सुनसान इलाके में अज्ञात शव मिला। शव के पास ही एक सीरिंज भी बरामद हुई। लोगों ने इसकी सूचना तुरंत थाना टांडा की पुलिस को दी।

टांडा थाना के प्रभारी मलकीत सिंह ने शव को कब्जे में लेकर सिविल अस्पताल पहुंचाया व शव की शिनाख्त हरजीत सिंह के रूप में हुई। पुलिस ने इस मामले मृतक के भतीजे इंद्र गोपाल के बयान पर इलाके में नशा तस्करी करने वाले छह लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

आरोपितों की पहचान पुष्पा देवी, निक्की पत्नी लाल, सन्नी सभी निवासी चंडीगढ़ कालोनी, रानी, राणो निवासी बस्सी सांसियां व सन्नी कुमार पुत्र राजा निवासी वार्ड नंबर 08 टांडा के रूप में हुई है। बतां दे कि टांडा इलाके में बस्सी सांसियां व चंडीगढ़ कालोनी नशा तस्करों का गढ़ माना जाता हैं। आए दिन पुलिस इस इलाके में सर्च आपरेशन तो चलाती है लेकिन कार्रवाई केवल पर्चा दर्ज करने तक ही सीमित है, इस कारण इलाके में नशा तस्कर धड़ल्ले से अपना कारोबार करते हैं।

समय-समय पर चलाया जा रहा तलाशी अभियान : एसएचओ

इस संबंध में एसएचओ मलकीत सिंह ने बताया कि पुलिस ने आरोपितों को काबू करने लिए छापेमारी शुरू कर दी है। जल्द ही उन्हें काबू कर लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि नशे की तस्करी पर काबू करने के लिए समय-समय पर तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि कुछ दिन पहले भी नशा तस्करी के मामले में 27 लोगों पर बाइनेम मामला दर्ज किया गया था।

Edited By: MOHAMMAD AQIB KHAN

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट