संवाद सहयोगी, होशियारपुर : लक्ष्मी एन्क्लेव में मंगलवार रात साढे़ दस बजे के करीब चोरी का आरोप लगाने से भड़के दूसरे पक्ष के लोगों ने घर में घुसकर पिता-पुत्रों पर हमला करके घायल कर दिया। पहले पत्थरबाजी की, फिर रवि सिद्धू के गेट खोलने पर उसको घायल कर दिया। जब पिता को बचाने सोनू आया तो हमलावरों ने उस पर भी दातर और खंडे से कई वार किए। इसके बाद हमलावर घर मे घुस गए और जमकर तोड़फोड़ करने लगे। यह देखकर सोनू की पत्नी सहम गई और उसने दो महीने की बच्ची के साथ कमरे में बंद होकर जान बचाई। इसके बाद हमलावरों ने रवि के दूसरे बेटे अमन को भी गंभीर घायल कर दिया और रवि की पत्नी आशा पर हमला करके उसके कपड़े फाड़ अश्लील हरकतें शुरू कर दी। डर के मारे सारा परिवार बाहर सड़क की तरफ भागा तो पीछे हमलावर भी आ गए। वह धमकियां देते रहे कि अगर पुलिस या किसी को शिकायत की तो पूरे परिवार को जान से मार दिया जाएगा। वहीं थाना सिटी प्रभारी इंस्पेक्टर तलविदर कुमार के साथ थाना माडल टाऊन प्रभारी इंस्पेक्टर करनैल सिंह और चौकी इंचार्ज पुरहीरां सुखदेव सिंह ने आठ आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज किया।

पुलिस को दिए बयान में घायल अमन ने बताया कि सोमवार रात करीब 12 बजे पड़ोसी घर में एक लड़का चोरी करने के लिए घुसा था जिसे सामने के घर मालिक ने देख लिया और मोबाइल फोन पर सूचना दी। इस पर वह मौके पर पहुंच गए और उसे काबू किया। वह अभी वासी बंसी नगर निकला जो यह बोल कर चला गया कि वह चोरी करने नहीं आया था। इसके बाद सारा मामला शांत हो गया।

रात के घटनाक्रम के बारे में अभी ने सारी बात भाई नितिन व नवीन और चाचा किशन लाल दारी को बताई तो वह तैश में आ गए। मंगलवार शाम उसकी माता आशा और पिता रवि आफिस बंद कर भरवाई अड्डा पहुंचे। वहां पर पहले से ही खड़े दारी के साथ अभि नितिन, नवीन, रवि, आकाश, कमल सिद्धू और निखिल सिद्धू ने घेर कर उनके साथ पहले धक्का मुक्की की और मारपीट शुरू कर दी। जान बचा कर किसी प्रकार वह घर पहुंचे। इसके बाद सभी हमलावरों ने हथियारों सहित घर में हमला कर दिया व अश्लील हरकतें भी की। पुलिस ने अमन के बयान पर किशन लाल उर्फ दारी, निखिल, कमल, नितिन, नवीन, अभि, रवि और आकाश के खिलाफ मामला दर्ज करके कार्रवाई शुरू कर दी है। सभी आरोपित फरार हैं।

Edited By: Jagran