जागरण टीम, होशियारपुर : मुख्य मंत्री कैप्टन अमरिदर सिंह के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार की ओर से समाज के सभी वर्गों को अलग-अलग कल्याण योजनाओं के अंतर्गत कवर किया गया है। उक्त जानकारी देते हुए कैबिनेट मंत्री पंजाब सुंदर शाम अरोड़ा ने दी। उन्होने कहा कि प्रदेश के खेत मजदूरों व भूमिहीन किसानों के भी करोड़ों रुपयों के ऋण माफी की गई है व इन कर्जों में सबसे अधिक रकम होशियारपुर जिले के हिस्से में आई है। वह गांव बजवाड़ा में सहकारी कृषि सभाओं के सदस्य भूमिहीन किसानों व खेत मजदूरों को कर्जा राहत के चेक वितरण समारोह के दौरान संबोधित कर रहे थे। इस दौरान गांव बजवाड़ा, डाडा व किला बरुन के 282 खेत मजदूरों व भूमिहीन किसानों को 5855806 रुपये के कर्जा राहत के चेक सौंपे। कर्जा राहत योजना के अंतर्गत बजवाड़ा कोआप्रेटिव सोसायटी के अंतर्गत 224 लाभार्थियों को 4641054 रुपये के चेक, गांव डाडा के 19 लाभार्थियों को 403043 रुपये के चेक व गांव किला बरुन के 39 लाभार्थियों को 811709 रुपये के चेक दिए गए हैं। इस तरह कर्जा राहत स्कीम के अंतर्गत इस जिले के 46000 से अधिक ऐसे लाभार्थियों को कवर किया जाएगा, जिनका 104 करोड़ रुपये का कर्जा माफ किया जाएगा। चेक

मौजूदा समय में किसान व खेत मजदूर बड़ी मुश्किल घड़ी से निकल रहे हैं, परंतु पंजाब सरकार ने प्रदेश के भूमिहीन किसानों व खेत मजदूरों के 520 करोड़ रुपये के ऋण माफ कर बहुत बड़ा प्रयास किया है। जिससे इन परिवारों को काफी राहत मिलेगी। कैप्टन अमरिदर सिंह की सरकार ऐसी पहली सरकार है, जिसने किसानों के साथ-साथ भूमिहीन किसानों व खेत मजदूरों के ऋण माफ किए हैं।

इस मौके पर दी होशियारपुर सेंट्रल कोआप्रेटिव बैंक के एमडी अमनप्रीत सिंह बराड़, सरपंच प्रीति, सरपंच कुलदीप अरोड़ा, सरपंच सुरजीत राम, डिप्टी रजिस्ट्रार कोआप्रेटिव सोसायटी उमेश वर्मा, दि होशियारपुर सेट्रल कोआप्रेटिव बैंक के जिला मैनेजर लखवीर सिंह, राम लाल बैंस, पंचायत सदस्य हरजीत सिंह, कर्मजीत, बलबीर चंद, महेश कुमार, राजेश कुमार, नंबरदार कुलदीप कुमार, नंबरदार अवतार चंद, पंच रजिदर कुमार, चौधरी अमरजीत, बजवाड़ा एग्रीकल्चर सोसायटी के सचिव पिदर कुमार आदि भी मौजूद थे।

Edited By: Jagran