संवाद सहयोगी, होशियारपुर : भगवान रामचंद्र जी की आध्यात्मिक जीवन यात्रा का चित्रण करने वाले महान महाकाव्य रामायण के रचयिता भगवान वाल्मीकि जी के प्रकटोत्सव के अवसर पर मंगलवार को वाल्मीकि सभाओं की ओर भव्य शोभायात्रा निकाल कर देश और शहरवासियों को आपसी भाईचारे का संदेश दिया था वहीं बुधवार सुबह से ही जिले के सभी वाल्मीकि मंदिरों में रामायण के पाठ चल रहे थे। रामायण के पाठ के बाद संगतों के लिए लंगर की व्यवस्था की गई थी। इसी के चलते मोहल्ला रिशी नगर में भगवान वाल्मीकि सभा की तरफ से कन्याओं के साथ विवाहित जोड़ो को बिठा कर एक साथ पूजा अर्चना की, जिसमें पार्षद विकास गिल के साथ सभी इलाका निवासी मौजूद थे। बाद दोपहर एक बजे लंगर प्रारंभ किया जो शाम पांच बजे तक जारी रहा इस अवसर पर मोहल्ला प्रधान विपन सिद्धू के साथ वरिदर गिल, अश्वनी कुमार लड्डू, हीरा लाल भाटिया, जनक राज, राकेश कुमार सभ्रवाल, ज्ञानचंद ओम प्रकाश, सुदेश कुमार, मुनी लाल,लाल चंद भट्टी, सुरिदर कुमार भट्टी, लव गिल और अन्य इलाका निवासियों ने लंगर सेवा की।

झंडा चढ़ाने के बाद लगाया खीर का लंगर

भगवान वाल्मीकि आश्रम सेवा सोसायटी की तरफ से प्रधान मोहिदर पाल कैप्टिल के साथ चेयरमैन सुरिदर दीवान ने वाल्मीकि आश्रम हरियाना रोड पर सुबह झंडे चढ़ाने की रस्म करने के बाद संगत के लिए खीर के लंगर का आयोजन किया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रुप में पहुंचे भगवान वाल्मीकि सेवा सोसायटी के जिला प्रधान मनोज कनेडी को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर जोध मोटर्स के मालिक जोध सिंह भंवरा के साथ विश्वानाथ बंटी, पुनीत धामी, हरिदर पाल आदिया, गुरवीर सिंह चोटाला, कश्मीर सिंह, बलविदर कुमार बिदी, जोगिदर पाल गोरा, राजकुमार थापर, रमेश मट्टू, दीपक सभ्रवाल, नवाब हुसैन एमसी, दीपक मट्टू, टोनी आदिया, तरसेम लाल आदिया, तरसेम लाल हंस, अच्छर लाल, राज कुमार आदिया, वरिदर कुमार बंटी, लाल चंद भट्टी और विनोद हंस शामिल थे।

Edited By: Jagran