जागरण संवाददाता, होशियारपुर : कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है। रोजाना सैंकड़ो लोग इसकी चपेट में आ रहे हैं। सबसे चिंताजनक बात यह है कि महामारी के कारण मौतों का सिलसिला एक बार फिर शुरु हो गया है। पिछले 24 घंटे में दो और लोगों की कोरोना से मौत हो गई। अब जिले में कोरोना से मरने वालों की संख्या 1007 हो चुकी है। 15 दिनों में 2288 नए मामले सामने आए हैं। वहीं इस दौरान दस लोगों की जान महामारी ने ले ली है। सिविल अस्पताल में उड़ रही नियमों की धज्जियां

स्वास्थ्य विभाग सकते में है और प्रशासन भी लगातार लोगों को जागरूक करते हुए निर्देशों का सख्ती से पालन करने की अपील कर रहा है। लेकिन अपने आंगन में ही सेहत विभाग निर्देशों का पालन कराने में असफल साबित हो रहा है। जिसकी ताजा मिसाल ओपीडी के लिए बनाए गए पर्ची काउंटर पर हर रोज देखने को मिल रही है। लोगों के चेहरों पर न तो मास्क नजर आता है और न ही कोई शारीरिक दूरी के नियमों का पालन कर रहा है। कुल मिलाकर अस्पताल में हालात भगवान भरोसे है। यदि जिले के सबसे बड़े स्वास्थ्य केंद्र में ऐसे हालात हैं तो अन्य इलाकों में क्या हालात होंगे यह किसी से छुपा नहीं है। महामारी के कारण अब तक जिले में 1007 लोगों की मौत

शनिवार को आई रिपोर्ट में 312 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। जबकि इस दौरान दो लोगों की मौत हो गई। अब जिले में कोरोना के कुल मरीजों की संख्या बढ़कर 31033 हो चुकी है। पिछले 24 घंटे में 2645 नए सैंपल लिए गए, जबकि 2600 सैंपलों की रिपोर्ट प्राप्त हुई। कोविड-19 के आज तक लिए गए कुल सैंपलों की संख्या 1024914 हो गई है। लैब से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार 990449 सैंपल नेगेटिव, जबकि 5207 सैंपलों की रिपोर्ट का इंतजार है। 1279 सैंपल इनवैलिड पाए गए हैं। अब तक मौतों की संख्या 1007 है। जिले में इस समय एक्टिव केसों की संख्या 1973 है, जबकि ठीक होकर घर गए मरीजों की संख्या 30345 है। कोरोना से शनिवार को जिन लोगों की मौत हुई है उनकी पहचान होशियारपुर शहर की रहने वाली 52 वर्षीय महिला व मुकेरियां की रहने वाली 86 वर्षीय महिला के रुप में हुई है।

Edited By: Jagran