संवाद सहयोगी, गुरदासपुर : शिवसेना समाजवादी पार्टी की बैठक पंजाब महासचिव रवनीश मेहरा के नेतृत्व में हुई। इसमें विशेष रूप से पंजाब संयुक्त सचिव गुरप्रीत जंगी, उत्तर भारत यूथ प्रधान कश्मीर बाबू व सुखविदर सिंह बिट्टू शामिल हुए। बैठक में कामरेड बलविदर सिंह की हत्या संबंधी रोष जाहिर किया।

शिवसेना नेताओं ने कहा कि बलविदर सिंह की सरेआम हत्या ने पंजाब सरकार और पुलिस प्रशासन से सवाल खड़े कर दिए हैं। उन्होंने कहा कि पिछले काफी समय से कामरेड बलविदर सिंह प्रशासन से मांग कर रहे थे कि रेफरेंडम 2020 के जरिए फिर से आतंकवादी पंजाब में पैर पसार रहा है और आतंकवादियों से उनकी जान को खतरा है। लेकिन उनकी बात को प्रशासन ने गंभीरता से नहीं लिया। पुलिस प्रशासन की अनदेखी का खमियाजा बलविदर सिंह को अपनी जान गंवाकर चुकाना पड़ा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!