बाल कृष्ण कालिया ,गुरदासपुर : चड्ढा शूगर मिल में शीरा के रिसाव होने व 8 जिलों में मछली खाने के परहेज के चलते गुरदासपुर में इसका भरपूर असर देखने को मिला। शुक्रवार को गुरदासपुर की मछली मार्केट में सन्नाटा छाया रहा। इसका मुख्य कारण ब्यास दरिया मे शीरे का रिसाव होना है। वहीं गुरदासपुर में चल रही दो मछली मार्केट जिनमें गांधी स्कूल के बाहर लगने वाली दुकानों में भी शुक्रवार को बहुत कम ग्राहक पहुंचे।

दुकानदार रोहित कुमार बनारसी राम, मिथुन कुमार आदि लोगों ने बताया कि ब्यास दरिया में मछली मरने की खबर के बाद लोगों में दहशत का माहौल पाया जा रहा है। इसके चलते लोग दुकानों से मछली खरीदने से परहेज कर रहे हैं। वहीं मछली पालन विभाग के अधिकारी जसवीर ¨सह का कहना है कि गुरदासपुर में बेची जाने वाली मछली बाहरी जिलों से आती हैं। इससे दरिया का कोई भी लेना देना नहीं है। उन्होंने कहा कि सोमवार को गुरदासपुर में बिकने वाली मछलियों की जांच भी करेंगे, जबकि उनकी टीम इस बात पर नजर बनाए हुए है।

नाममात्र सेल

मछली मार्केट में मछली बेचने वाले कुछ दुकानदार ने बताया कि शुक्रवार को उनकी सेल हजारों में होती है, लेकिन ब्यास दरिया में रिसाव की खबर जैसे ही मीडिया में और सोशल साइट में वायरल हुई तो लोगों ने मछली खरीदने से इंकार कर दिया। इसके बाद उनकी सेल में भारी गिरावट आई है।

Posted By: Jagran