संवाद सहयोगी, किला लाल सिंह: पंजाब में अन्नदाता कहलाने वाला किसान वर्ग पहले ही कांग्रेस सरकार की किसान विरोधी नीतियों की वजह से बेहद आर्थिक संकट से गुजर रहा है और अब बीज घोटाले ने किसान वर्ग को डुबोने की कगार पर खड़ा कर दिया है। उक्त विचार शिअद बादल के वरिष्ठ उपाध्यक्ष इंद्रजीत सिंह रंधावा व वरिष्ठ यूथ अकाली नेता दीपइंद्र सिंह रंधावा ने कहे।

उन्होंने कहा कि डेरा बाबा नानक में एक बीज फर्म की तरफ से किसान वर्ग के साथ भारी धोखा करते हुए उन्हें नकली बीज बेच कर जहां उनकी जेब पर ढाका डाला वहीं पहले से ही बेहद आर्थिक तंगी में गुजर रहे किसान वर्ग को आत्महत्या तक का संगीन कदम उठाने को मजबूर कर दिया है।

उन्होंने कहा कि खेतीबाडी़ विभाग की पूरी वागडोर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह के हाथ में है। इस लिए इस घोटाले की सूई उन पर भी पूरी तरह से घूम रही है। उन्होंने कहा कि इस घोटाले की निष्पक्ष उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!