संवाद सहयोगी,बटाला

श्री गुरु नानक देव जी और जगत माता सुलखणि जी के 531वां विवाह पर्व की खुशी में गुरुद्वारा डेरा साहिब में शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी और समूह संगत की ओर से महान गुरमति समागम करवाया गया। इस गुरमति समागम में ¨सह साहिब भाई बल¨वदर ¨सह ग्रंथी श्री दरबार साहिब श्री अमृतसर साहिब वालों ने विशेष तौर पर पहुंच कर गुरु साहिब के इतिहास की कथा सुना संगत

को इतिहास से अवगत करवाया। इसके उपरान्त भाई बल¨वदर ¨सह हजूरी रागी जत्था श्री दरबार साहिब श्री अमृतसर साहिब ने गुरबाणी का मनोहर कीर्तन करके संगत को निहाल किया। इस दौरान विवाह पर्व के मुख्य प्रबंधक जत्थेदार गु¨रदरपाल ¨सह गोरा मेंबर शिरोमणि कमेटी ने समूह संगत को श्री गुरु नानक देव जी के विवाह पर्व की बधाई देते हुए युवाओं द्वारा करवाए गए गुरमति समागम की सराहना की। अंत में जत्थेदार गु¨रदरपाल ¨सह गोरा एसजीपीसी मेंबर, अमनप्रीत ¨सह, गुर¨तदरपाल ¨सह, कुलवंत ¨सह जफरवाल मैनेजर गुरुद्वारा सतकरतारियां साहिब, समाज सेवक मास्टर जो¨गदर ¨सह अचली गेट और कृतपाल ¨सह ने ¨सह साहिब भाई बल¨वदर ¨सह ग्रंथी, भाई बल¨वदर ¨सह ने सिरोपा और यादगारी चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। इस

अवसर पर हरबंस ¨सह, जसपाल ¨सह, मन¨जदर ¨सह, लवप्रीत ¨सह, गुरखेल ¨सह ग्रंथी, भाई अमोलक ¨सह, निशान ¨सह, प्रगट ¨सह, गुरसिमरन ¨सह, दर्शनजीत ¨सह आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran