रवि कुमार, गुरदासपुर : अब कोई बहाना नहीं। बारिश में ट्रैफिक पुलिस को जाम लगने पर सड़क पर उतरकर जाम खुलवाना पड़ेगा। पंजाब सरकार के निर्देश पर एसएसपी स्वर्णदीप सिंह ने ट्रैफिक पुलिस को बारिश में भी ड्यूटी पर डटे रहने के लिए रेनकोट दे दिए हैं। अब ट्रैफिक कर्मी रेनकोट पहनकर बारिश में भी ड्यूटी दे रहे हैं। बारिश के दिनों में अकसर जाम की स्थिति विकराल रुप धारण कर लेती थी। वहीं ट्रैफिक पुलिस भी बारिश से बचने के लिए अपनी ड्यूटी से गायब हो जाते थे। लोग कई कई घंटे जाम में ही फंसे रहते थे। अब सरकार ने बारिश के दिनों में ट्रैफिक पुलिस को ड्यूटी पर डटे रहने के लिए रेन कोट पहना दिए हैं। जिसके चलते शनिवार को शहर के चौकों में ट्रैफिक पुलिस रेनकोट पहन कर यातायात को बहाल करती देखी गई।

पहले जब बारिश होती थी तो चौकों पर तैनात पुलिस कर्मचारी यातायात को बहाल करने की बजाए आसपास की दुकानों या अन्य स्थानों में चले जाते थे। जाम की स्थिति पैदा होने से वाहन चालकों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता था। वाहन चालक एक दूसरे से पहले निकलने की जल्दबाजी में झगड़ा करने पर भी उतारु हो जाते थे। अब पंजाब सरकार की ओर से ट्रैफिक पुलिस को रेनकोट मुहैया करवा दिए जाने से वाहनों को परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

शहर में नहीं है सिग्नल लाईटें

जाम की स्थिति को रोकने के लिए शहर में कोई भी सिग्नल लाईट नहीं है। हालांकि डाकखाना चौक में सिग्नल लाईटें लगाई गई थी। लेकिन वह भी पिछले लंबे समय से बंद पड़ी हुई है। इस कारण इस चौक पर ट्रैफिक कर्मचारी तो तैनात रहते हैं। मगर उन्हें भी बारिश के दिनों में ट्रैफिक जाम बहाल करने के लिए दो-चार होना पड़ता था।

-------------

जिले में कुल 22 ट्रैफिक कर्मी हैं।

ट्रैफिक इंचार्ज जगीर सिंह का कहना है कि एसएसपी स्वर्णदीप सिंह ने जिले में ट्रैफिक पुलिस को रेनकोट भेंट किए हैं।ताकि ट्रैफिक पुलिस बारिश के दिनों में भी अपनी ड्यूटी ईमानदारी से निभा सकें। उन्होंने कहा कि जिले में कुल 22 ट्रैफिक कर्मी हैं। जो आज बारिश के बीच यातायात को सुचारु ढंग से चलाने के लिए ड्यूटी दे रहे हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!