डेरा बाबा नानक [महिंदर सिंह अर्लीभन्ऩ]। Kartarpur Corridor खुलने के 16वें दिन पहली बार एक दिन में एक हजार से अधिक श्रद्धालु सीमा पार गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब के दर्शन के लिए गए। रविवार को 1431 श्रद्धालुओं ने कॉरिडोर के रास्ते सीमा पार की। हालांकि सूची में 1785 श्रद्धालु शामिल थे, लेकिन 354 श्रद्धालु पैसेंजर टर्मिनल पर नहीं पहुंचे। दो हफ्ते बाद श्री करतारपुर साहिब के दर्शन करने जाने वाले श्रद्धालुओं का आंकड़ा भी 6247 तक पहुंच गया है। 

Kartarpur Passenger Terminal पर पहली बार दिखी कतारें

उद्घाटन के बाद पहली बार रविवार को Kartarpur Passenger Terminal पर श्रद्धालुओं की कतारें देखने को मिली। कलानौर के रहने वाले हरदीप सिंह मठारू ने पिता स्वर्ण सिंह, पत्नी परमिंदर कौर, बेटे सहजदीप सिंह, वंशदीप सिंह पाकिस्तान जाकर गुरुद्वारा साहिब के दर्शन किए। संगत की संख्या को देखते हुए पाकिस्तान की ओर से जीरो लाइन पर बसों का प्रबंध किया गया था। पाकिस्तान गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की ओर से बहुत अच्छे प्रबंध किए गए हैं। सूजी व मूंगी का कड़ाह प्रसाद के अलावा मखाने, छुहारे और बादाम का प्रसाद भी संगत को बांटा गया।

उम्र में सबसे छोटी श्रद्धालु 

कॉरिडोर के रास्ते लुधियाना की चार महीने की बच्ची भी गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब के दर्शन के लिए बिना वीजा के पाकिस्तान जा चुकी है। इसके बाद शनिवार को भी लुधियाना की आठ महीने की तृप्ता भी माता-पिता के साथ गुरद्वारा साहिब गई थी।

सबसे बुजुर्ग श्रद्धालु

कॉरिडोर के उद्घाटन वाले दिन नौ नवंबर को पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल (91) श्री करतारपुर साहिब के दर्शन के लिए गए थे। वे Kartarpur Corridor के रास्ते जाने वाले सबसे बुजुर्ग श्रद्धालु हैं।

बड़ी शख्सियतों ने भी नवाया शीश

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह, पूर्व उप मुख्यमंत्री सुखबीर बादल, सांसद सनी देयोल, पूर्व कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू और पंजाब सरकार के कैबिनेट मंत्री-विधायक के अलावा कई शख्सियतों ने भी कॉरिडोर के रास्ते श्री करतारपुर साहिब का दर्शन किया है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!