संवाद सहयोगी, गुरदासपुर : बुधवार को गुरदासपुर बार एसोसिएशन में वकीलों के साथ कांग्रेस प्रत्याशी सुनील जाखड़ ने बैठक की। इस दौरान विधायक बरिदरमीत सिंह पाहड़ा भी उपस्थित थे। जाखड़ ने कहा कि कांग्रेस अपने किए काम के नाम पर चुनाव मैदान में उतरी है। उन्होंने वोटरों से अपील की कि वे काम और चेहरे में से सही का चयन करें। उन्होंने दोहराया कि उनके पास विकास कार्य करवाने का लंबा अनुभव है और पिछले 16 महीनों के दौरान उन्होंने इस हलके में भी काम करके दिखाया है और वे इसी आधार पर वोट मांग रहे हैं।

विकास कार्यो की बात करते हुए जाखड़ ने कहा पांच रेलवे ओवर/अंडर ब्रिजों के निर्माण संबंधी कार्यवाही की जा रही है। इस संबंधी 172 करोड़ रुपये की प्रवानगी पंजाब सरकार ने रेलवे को दे दी है। तीन रेल ओवर ब्रिजों संबंधी रेलवे की तरफ से प्रवानगी जारी होने के बाद काम शुरू हो चुका है, जिसमें दीनानगर का आरओबी, गुरदासपुर और नलंगा का रेलवे अंडर ब्रिज शामिल है। पठानकोट और सुजानपुर में भी ऐसे आरओबी /आरयुबी के निर्माण संबंधी कार्यवाही चल रही है।

भाजपा को मोदी पार्टी बना दिया गया

जाखड़ ने कहा कि लोकतंत्र में सवाल करना विरोधी पर कीचड़ फेंकना नहीं होता है, परंतु प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सोच देश की प्रजातांत्रिक परंपराओं के लिए घातक बनी हुई है। प्रधानमंत्री नहीं चाहते कि कोई उनके किए पर सवाल करे और इसीलिए उन्होंने सबसे पहले अपनी पार्टी में कोई बोलने वाला नहीं छोड़ा। अब दूसरी पार्टियों के बोलने वाले नेताओं की आवाज बंद करने की नीयत के साथ ही उन्होंने गुरदासपुर से अपना उम्मीदवार चुन कर भेजा है। परंतु उन्होंने कहा कि गुरदासपुर के लोग अपने हलके की आवाज बंद नहीं होने देंगे। जाखड़ ने कहा कि हमारी लड़ाई किसी व्यक्ति विशेष के साथ नहीं बल्कि प्रधानमंत्री की सोच के साथ है, जो देश की लोकतांत्रिक संस्थाओं को नष्ट कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मोदी ने भाजपा को भी मोदी पार्टी बना कर रख दिया है। पिछले पांच सालों से झूठे बहानों और हवाई बातों के साथ मोदी ने सबको भ्रमजाल में डाला हुआ था, परन्तु अब देश के लोगों के सामने उनका तिलिस्म टूट चुका है और लोगों को सत्य समझ आ चुका है। उन्होंने कहा कि भारत और पाकिस्तान एक ही समय आजाद हुए, परंतु हम पाकिस्तान से इसीलिए आगे निकल गए कि हमारी फौज को राजनीति से दूर रखा गया।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran