रा¨जदर कुमार, धर्मवीर, गुरदासपुर

सिखों के पहले गुरु नानक साहब जी के 550वें प्रकाश पर्व पर भारत सरकार ने एक अहम फैसला करते हुए पाकिस्तान स्थित गुरुद्वारा साहिब करतारपुर जाने के लिए एक विश्व स्तरीय कॉरिडोर बनाने का फैसला किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में कैबिनेट बैठक में गुरदासपुर जिले में डेरा बाबा नानक से भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय सीमा तक जाने के लिए विशेष कॉरिडोर का निर्माण करने के प्रस्ताव को हरी झंडी दिखाई गई। इस फैसले को सुनने के बाद जिला गुरदासपुर के लोगों सहित पूरे देश भर में खुशी की लहर पाई जा रही है। पिछले 71 सालों से उम्मीद लगाई बैठे लोगों की आखिर कार वाहेगुरु ने सुन ही ली है। कॉरिडोर खोलने का फैसला करने पर लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार जताया है।

कॉरिडोर खुलने से अब लोग बिना वीजे के करतारपुर साहिब गुरु के दर्शन करने के लिए जा सकेंगे। कॉरिडोर खुलने से अब भारत-पाक के रिश्तों में भी कुछ हद तक बेहतरी देखने को मिल सकती है। 1

कॉरिडोर खोलने का फैसला सराहनीय : आनंद

प्रभ¨जदर आनंद प्रधान केमिस्ट एसोसिएशन गुरदासपुर ने कहा कि प्रधानमंत्री ने लंबे समय से चली आ रही मांग को पूरा कर देश भर की संगत को बड़ा तोहफा दिया है। यह कॉरिडोर खुलने से अब संगत आसानी से सरहद पार स्थित गुरुघर के दर्शन कर पाएंगे। 2

फैसले का स्वागत : गुरमीत ¨सह

गुरमीत ¨सह एमवीआइ गुरदासपुर ने कहा कि वह कॉरिडोर खोलने के फैसले का स्वागत करते हैं। पीएम नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त करता हूं, जिन्होंने यह ऐतिहासिक फैसला लिया है। पिछले लंबे समय से चलती आ रही मांग आज पूरी हो गई है। लोग करतारपुर साहिब के खुले दर्शन कर सकेंगे। 4

रिश्तों में होगी प्रगति : राकेश कुमार

राकेश कुमार बिल्ला प्रॉपर्टी डीलर गुरदासपुर ने कहा कि अगर यह कॉरिडोर सही तरीके से काम करने लगा तो यह हाल के वर्षो में भारत और पाक के द्विपक्षीय रिश्तों में सबसे उल्लेखनीय प्रगति है। 3

संगत की अरदास स्वीकार : हरीश मेहता

हरीश मेहता एमडी शिवा होटल गुरदासपुर ने कहा कि सिखों के पहली पातशाही श्री गुरु नानक देव जी से संबंधित गुरुद्वारा श्री करतारपुर का रास्ता खोलने का निर्णय लेकर बहुत अच्छा कदम उठाया है। संगत द्वारा रास्ता खोलने की अरदास स्वीकार हुई है। संगत में अब भारी उत्साह है कि जल्द रास्ता खुले और वह श्री करतारपुर साहिब माथा टेकने हेतु जाएं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!