संवाद सहयोगी, गुरदासपुर : मंगलवार को सरकारी औद्योगिक सिखलाई संस्था (लड़के) के समूह मुलाजिमों ने काली झंडियां लगाकर पुरानी पेंशन स्कीम बहाल करवाने की मांग को लेकर काला दिवस मनाया। मुलाजिमों ने गेट रैली करके सरकार के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन किया। यह प्रदर्शन स्टेट व जिला बॉडी द्वारा घोषित किए गए कार्यक्रम के तहत आइटीआइ की पुरानी पेंशन बहाली संघर्ष कमेटी की इकाई के प्रधान गनेश दास के नेतृत्व में किया गया।

सरकार के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन करते हुए मुलाजिमों ने मांग की कि पुरानी पेंशन स्कीम को तुरंत बहाल की जाए। इस दौरान पूरे शहर में मार्च निकालते समय मुलाजिमों की ओर से सरकार के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली गई और जोरदार नारेबाजी भी की गई। प्रधान गनेश दास ने कहा कि नई पेंशन स्कीम में कवर होते ही सरकारी मुलाजिमों का भविष्य अंधकार में चला जाएगा तथा इसमें केवल न मात्र ही पेंशन मिलने योग्य हैं। इसके साथ ही मुलाजिमों का बुढ़ापा सुरक्षित नहीं है।

इस पेंशन में कवर होते मुलाजिमों को मौत होने पर उनके वारिस को किसी प्रकार की नौकरी की कोई सुविधा उपलब्ध नहीं है। इस स्कीम में मुलाजिमों की कटौती का पैसा शेयर मार्केट में लग रहा है, जोकि बिल्कुल असुरक्षित है। इस स्कीम में से मुलाजिमों को अपना पैसा निकलवाना बहुत मुश्किल है। मुलाजिमों ने नई पेंशन स्कीम की मुलाजिम विरोधी नीतियों का जोरदार विरोध करते हुए प्रदेश व केंद्र सरकार को चेतावनी दी कि यदि पुरानी पेंशन स्कीम जल्दी लागू न की गई तो आने वाले लोकसभा चुनाव के दौरान इसका परिणाम भुगतना पड़ेगा। मुलाजिमों ने पटियाला में अपनी मांगों को लेकर संघर्ष कर रहे अध्यापकों पर सरकार द्वारा किए गए अत्याचार की जोरदार शब्दों में ¨नदा की गई। प्रदर्शन में र¨जदर ¨सह, अमरजीत ¨सह, प्रेम चंद, सतीश कुमार, राकेश कुमार, कुलवंत ¨सह, अंकिता, नोनिहाल ¨सह, अनिल कुमार, विशाल कुमार, अमनदीप,गुरप्रीत कौर, बलबीर ¨सह, संजीव कुमार, रवि, पर¨मदर कुमार, मनदीप ¨सह, गुरपाल ¨सह, मुकेश राणा, जस¨वदर ¨सह,कुलजीत ¨सह, विनोद कुमार, हरभजन ¨सह, गुरप्रलाद ¨सह, अश्विनी कुमार आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!