जागरण संवाददाता, बटाला : कीड़ी मिल ड्राइवरों ने मांगों को लेकर एसडीएम दफ्तर के समक्ष धरना दिया। नारेबाजी करते हुए ड्राइवरों ने मिल प्रबंधक कमेटी पर आरोप लगाते हुए कहा कि वे उनके साथ लंबे समय से शोषण कर रही है। इसलिए उन्हें मजबूरन उन्हें सड़कों पर उतरना पड़ा। इस दौरान एसडीएम को एक मांग पत्र सौंपा गया, जिन्होंने भरोसा दिया कि जल्द उनकी मांगों पर गौर कर मिल प्रबंधक कमेटी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। आश्वासन के बाद उन्होंने धरना लिया।

वामदल के मजदूर संगठन के प्रधान सुख¨मद्र ¨सह व महासचिव गुलजार ¨सह ने कहा कि लंबे समय से मिल प्रबंधक कमेटी मील ड्राइवरों के अधिकारों का हनन कर रही है। कई बार उनसे मिलकर निवारण की गुहार लगाई परंतु झूठे वादों के अलावा उन्हें कुछ नहीं मिला। उन्होंने बताया कि उन्हें प्रतिमाह वेतन काफी लेट मिलता है। केवल उन्हें 150 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से कुल सैलरी दी जाती है। घर का गुजारा चलाना मुश्किल

उन्होंने कहा कि इतने वेतन में घर का गुजारा चलाना मुशिकल हो रहा है। उन्होंने मांग पत्र में प्रशासन से जांच करवाने के लिए गुहार लगाई और साथ ही प्रशासन से मांग करते हुए कहा कि अगर मिल प्रबंधक कमेटी उनकी मांगें नहीं मानती तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए।

Posted By: Jagran