संवाद सहयोगी, गुरदासपुर : दस दिन पहले पुलवाला आतंकी हमले में शहीद हुए मनिंदर सिंह का श्रद्धांजलि समारोह शनिवार को पंजाब महाराज रंजीत ¨सह गुरुद्वारा दीनानगर में होगा। शहीद सैनिक परिवार सुरक्षा परिषद के महासचिव कुंवर रविन्द्र ¨सह विक्की ने बताया कि शहीद मनिन्दर का जन्म 21 जून 1988 को हुआ था। पिता सतपाल अत्री व माता राज कुमारी ने उनकी प्रारंभिक शिक्षा स्वामी विवेकानंद हाई स्कूल में करवाई। इसके बाद पांचवीं से लेकर 12वीं तक की शिक्षा इन्होंने जवाहर लाल नवोदय विद्यालय नाजोचक्क से प्राप्त की। इसके बाद अमृतसर ग्रुप ऑफ इंजीनिय¨रग एंड टेक्नोलॉजी से बीटेक करने के बाद एक वर्ष गुड़गांव स्थित विप्रो कंपनी में नौकरी की, मगर म¨नदर के दिल में सैनिक बनने की इच्छा थी। इसके बाद वे 2 मार्च 2017 को सीआरपीएफ की 75 बटालियन में भर्ती हुए गए। उनकी पहली पोसिटंग आतंकवाद से प्रभावित जम्मू कश्मीर में हो गई। मनिन्दर कबड्डी व बास्केटबॉल के राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी रहने के अलावा उच्च कोटि के पेंटर भी थे। मनिन्दर 13 फरवरी को 15 दिन की छुट्टी काट कर जब ड्यूटी पर गए थे। ज्ञात रहे कि 9 वर्ष पहले म¨नदर की माता राज कुमारी का देहान्त हो चुका है। घर पर पिता व बहनें मनिंदर के लिए दुल्हन लाने के सपने संजो रहे थे, मगर उन्होंने वीरगति को दुल्हन के रूप में गले लगा कर अपना बलिदान दे दिया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!