रवि कुमार, गुरदासपुर : शहर के अंदरूनी बाजार में चार पहिया वाहनों के गुजरने से प्रभावित होते यातायात को देखते हुए पुलिस प्रशासन ने करीब एक सप्ताह पहले लाइब्रेरी चौक व बीज मार्केट के पास बेरीकैड लगाए थे। इसके साथ ही चार पहिया वाहनों को रोकने के लिए पुलिस कर्मचारी भी तैनात किए गए थे, लेकिन करीब तीन दिन बाद कर्मचारी गायब हो गए। सिर्फ लाइब्रेरी चौक के पास दो पुलिस कर्मचारी अभी तैनात हैं, लेकिन चार पहिया वाहन चालकों को बाजार में आने से रोकने के लिए वे भी असफल साबित हो रहे है। लाइब्रेरी चौक से बीज मार्केट तक पहले ही अतिक्रमण के कारण ट्रैफिक समस्या पूरी तरह से चरमाई है। चार पहिया वाहनों के आने से हालत और भी खराब हो जाती है। बीज मार्केट की तरफ बेरीकैड तो लगे हैं, लेकिन वहां पर कोई भी कर्मचारी तैनात नहीं है जिसके कारण चार पहिया वाहन चालक इसका फायदा उठाकर वाहनों को अंदरूनी बाजार में लेकर जा रहे है।

दुकानदारों की शिकायत पर किया था बंद

चार पहिया वाहनों के कारण बाजारों में जाम की स्थिति दुकानदार परेशान हो गए थे। उन्होंने इसकी शिकायत प्रशासन से की थी जिसके बाद प्रशासन ने सख्ती अपनाते हुए बाजारों में आने वाले चार पहिया वाहनों को रोकने के लिए बेरीकैड लगाए थे।

कर्मचारियों की बात नहीं सुनते चालक

प्रशासन ने जाम की स्थिति से राहत के लिए भले लाइब्रेरी चौक पर पुलिस कर्मचारी तैनात किए हैं। कर्मी बाजार में आने वाले वाहन चालकों को नेहरु पार्क में बनी पार्किंग पर वाहन लगाने के लिए कहते हैं, लेकिन कुछ वाहन चालक उनकी एक बात न सुनते हुए अपने वाहनों को बाजार में ले जाते है। इससे साफ है कि पुलिस का उनका कोई खौफ नहीं है।

वाहन चालकों के खिलाफ की जाएगी कार्रवाई :जगीर

ट्रैफिक इंचार्ज जगीर सिंह ने कहा कि मामला उनके ध्यान में है और नौ इंट्री में घुसने वाले चार पहिया वाहन चालकों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा, जल्द ही वहां पर पुलिस कर्मचारी तैनात किए जाएंगे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!